×

Meerut News: बेटी की हत्या के लिए पिता ने दी वार्ड ब्वाय को सुपारी, ICU में युवती को लगाया जहर वाला इंजेक्शन

Meerut News: अस्पताल में भर्ती बेटी की हत्या के लिए पिता ने एक लाख की सुपारी दे दी, वार्ड ब्वाय ने ICU में युवती को जहर वाला इंजेक्शन लगाया।

Sushil Kumar
Updated on: 6 Aug 2022 12:55 PM GMT
Father gave betel nut to ward boy for killing daughter, injected poison to the girl in ICU
X

  मेरठ: बेटी की हत्या के लिए पिता ने दी वार्ड ब्वाय को सुपारी: Photo- Newstrack

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Meerut News: खूनी रिश्तों की डोर में आई कमजोरी का खुलासा एक बार फिर उस समय हुआ जब यहां एक पिता ने ही मोदीपुरम के एक निजी अस्पताल में भर्ती अपनी बेटी को मारने के लिए एक अस्पताल के वार्ड ब्वाय को एक लाख रुपये में हत्या की सुपारी (Father gave Supari to killing daughter) दे दी। आरोपित वार्ड ब्वाय ने एक युवती की मदद से निजी अस्पताल के आइसीयू में भर्ती युवती को पोटैशियम क्लोराइड (केसीएल) के हाई डोज का इंजेक्शन दे दिया। जिस कारण युवती की स्थिति बिगड़ने लगी।

घटना से घबराए अस्पताल प्रबन्धन ने सीसीटीवी फुटेज (cctv footage) देखी तो पता चला कि किसी युवक ने फर्जी डाक्टर बन युवती को इंजेक्शन लगाया (Became a fake doctor injected the girl) है। फुटेज के आधार पर उसकी पहचान एक दूसरे अस्पताल के वार्ड ब्वाय रमेश के रूप में हुई।

प्रेम प्रसंग का मामला

दरअसल, मामला यह है कि मोदीपुरम के एक निजी अस्पताल में एक युवती को भर्ती कराया गया था। परिजनों का कहना था कि बंदरों के झपट्टे से बचने के क्रम में उनकी बेटी छत से गिर गई थी और बुरी तरह चोटिल हो गई थी। जबकि जांच में पता चला है कि युवती गिरी नहीं छत से खुद ही कूदी थी। युवक से प्रेम प्रसंग को लेकर परिवार में झगड़ा हुआ था जिसके बाद आक्रोश में युवती छत से कूद गई थी।

घायल युवती को परिजनों द्वारा पहले कंकरखेड़ा के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जांच में पता चला है कि युवती के प्रेम प्रंसग से नाराज परिजन उसकी हत्या कराना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने रमेश नाम के युवक से बात की जो कि अस्पताल में वार्ड ब्वाय है। हत्या सौदा एक लाख में तय होने के बाद आरोपी वार्ड ब्वाय के कहने पर परिजन युवती को कंकरखेड़ा अस्पताल से डिस्चार्ज करा कर मोदीपुरम के अस्पताल ले आए।

पोटैशियम क्लोराइड अधिक मात्रा में दिया इंजेक्शन

इस अस्पताल में वार्ड ब्वाय की एक परिचित सहायिका सपना भी काम करती है। सो,सपना की मदद से आरोपी रमेश शनिवार को अस्पताल के आइसीयू में डॉक्टर की वर्दी पहन कर घुस गया और युवती को केसीएल का 20 एमएल इंजेक्शन(हाई डोज) लगा दिया। अधिक मात्रा में पोटैशियम क्लोराइड के शरीर में प्रवेश करने पर युवती की हालत बिगड़ी तो चिकित्सकों के हाथ-पांव फूल गए। प्रबन्धन द्वारा आइसीयू की सीसीटीवी फुटेज देखने पर घटना का खुलासा हुआ।

पकड़े जाने पर युवक ने पूछताछ में खुद को दूसरे अस्पताल का कंपाउंडर बताया और कहा कि युवती के पिता ने ही जान से मारने के लिए उसे एक लाख रुपये में हायर किया था। इस काम में फ्यूचर अस्पताल की एक सेविका भी शामिल है। उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया।

प्रापर्टी डीलर पिता ने दी सुपारी

पूछताछ में रमेश ने बताया कि युवती को जान से मारने के लिए उसके प्रापर्टी डीलर पिता ने हायर किया है। रमेश के बयान पर प्रापर्टी डीलर को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस काम में फ्यूचर अस्पताल की सेविका सपना की भी मिलीभगत थी। पिता ने रमेश-सपना को एक लाख रुपये की सुपारी अपनी ही बेटी को मारने के लिए दी थी। दोनों के पास से सुपारी के दिए रुपयों में से 95 हजार बरामद हुए हैं।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story