Top

चंद्रशेखर आजाद की पिस्तौल के साथ सेल्फी पर विवाद, वसूला जा रहा शुल्क

aman

amanBy aman

Published on 7 Aug 2016 9:17 AM GMT

चंद्रशेखर आजाद की पिस्तौल के साथ सेल्फी पर विवाद, वसूला जा रहा शुल्क
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इलाहाबाद: शहीद चंद्रशेखर आजाद के शहादत की गवाह रही उनकी पिस्तौल के साथ सेल्फी लेने को लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है। प्रशासन की ओर से आजाद की पिस्तौल के साथ सेल्फी लेने पर अब शुल्क लगा दिया गया है। यह शुल्क इलाहाबाद संग्रहालय ने लगाया है।

50 रुपए में सेल्फी, 1000 में वीडियो

संग्रहालय प्रशासन की ओर से चंद्रशेखर आजाद की पिस्तौल 'बमतुल बुखारा' को अपने मोबाईल में कैद करने को लेकर शुल्क लगाए जाने से यहां आने वाले पर्यटकों में खासा रोष है। प्रशासन आजाद की पिस्तौल के साथ सेल्फी लेने पर 50 रुपए और वीडियो बनाने पर 1000 रुपए वसूल रहा है।

pistol-4

प्रशासन का अपना तर्क

इलाहाबाद संग्रहालय प्रशासन का कहना है कि उन्होंने यह कदम इसलिए उठाया है ताकि सुरक्षा और संग्रहालय में आने-जाने वाले पर्यटकों का रेकॉर्ड रखा जा सके। वहीं पर्यटकों का कहना है कि 'संग्रहालय प्रशासन जब पहले ही अंदर आने के लिए प्रवेश शुल्क वसूलती है तो सेल्फी के लिए नया शुल्क क्यों ?'

युवा पीढ़ी होगी हतोत्साहित

संग्रहालय प्रशासन का भले ही अपना जो भी तर्क हो। पर्यटकों का कहना है कि 'वर्तमान पीढ़ी का देश के शहीदों के बारे में जानने-समझने को लेकर ऐसे ही कम दिलचस्पी रहती है। ऐसे में अगर आजाद की पिस्तौल का क्रेज है तो उस पर शुल्क लगाना सही नहीं है। इससे नई पीढ़ी का झुकाव इस ओर कम होगा। देश का यह पहला स्थान होगा जहां शहीदों की निशानियों के साथ सेल्फी लेने पर शुल्क लगाया गया है।'

pistol-3

pistol

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story