Top

बेखौफ बदमाशों ने डिप्टी जेलर के घर पर की ताबड़तोड़ फायरिंग, पहले भी कर चुके हैं जान लेने की कोशिश

By

Published on 2 Feb 2017 4:32 AM GMT

बेखौफ बदमाशों ने डिप्टी जेलर के घर पर की ताबड़तोड़ फायरिंग, पहले भी कर चुके हैं जान लेने की कोशिश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

barabanki

बाराबंकी: आए दिन जेल के अंदर कैदियों में गैंगवार और सुरक्षा में सेंध लगाकर कैदियों की जेल से भागने की घटनाएं सामने आती रहती हैं, मगर बाराबंकी जेल प्रशासन द्वारा विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत जेल में सख्ती किए जाने से नाराज जेल में बंद कैदियों के जेल के बाहर साथियों ने डिप्टी जेलर पर जानलेवा हमला बोल दिया। अज्ञात बेखौफ बदमाशों ने डिप्टी जेलर के घर पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। पड़ोसियों से गुहार लगाने पर बदमाश भाग खड़े हुए। वहीं डरे-सहमे डिप्टी जेलर ने जेल में उनकी सुरक्षा के बंदोबस्त न होने की बात कही है।

आगे की स्लाइड में जानिए क्या है पूरा मामला

मामला बाराबंकी के जिला कारागार का है। जहां डिप्टी जेलर संतोष कुमार वर्मा के आवास पर बाइक से आए दो अज्ञात बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। संतोष वर्मा का कहना है कि अगर उनके घर का दरवाजा बंद न होता, तो कोई भी अनहोनी हो सकती थी। पड़ोसियों के शोर मचाने पर बदमाश फायरिंग करते हुए भाग खड़े हुए।

आगे की स्लाइड में जानिए क्यों हुआ उनपर हमला

डिप्टी जेलर संतोष वर्मा के मुताबिक़ वह बाराबंकी की जेल में तलाशी और सख्ती का अभियान छेड़े हुए थे। शायद यही वजह रही कि जो अपराधी जेल में बंद हैं, उनकी शह पर ही यह बदमाश उनकी जान लेने के इरादे से आए थे। डिप्टी जेलर के अनुसार जिन बदमाशों ने उन पर हमला किया, उन्होंने दिन में पहले उनके घर की रेकी की है, तब रात के समय हमला किया है।

आगे की स्लाइड में जानिए और क्या कहना है जेलर का

डिप्टी जेलर संतोष वर्मा के अनुसार जेल में बंद बड़े अपराधियों की शह पर हमला करने आए बदमाशों को वह जानते हैं मगर कैमरे के सामने वह उनका नाम उजागर नहीं करेंगे, मगर अपने उच्चाधिकारियों को वह जरूर बताएंगे। संतोष वर्मा ने कहा कि जब-जब जेल में अपराधियों पर वह सख्ती करते हैं, तब तब उनको ऐसी सिचुएशन का सामना करना पड़ता है। संतोष वर्मा ने कहा कि उनकी सुरक्षा के यहां कोई इंतजाम नहीं हैं।

Next Story