Top

अफवाह ने ली महिला समेत 5 यात्रियों की जान, ट्रेन से कटकर मौत

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 18 July 2016 4:08 AM GMT

अफवाह ने ली महिला समेत 5 यात्रियों की जान, ट्रेन से कटकर मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इलाहाबादः मांडा थाना इलाके में एक अफवाह से महिला समेत 5 यात्रियों की मौत हो गई। सभी भागलपुर लोकमान्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस में सवार थे और महाराष्ट्र जा रहे थे। अचानक चेन पुलिंग की वजह से सभी मांडा रेलवे स्टेशन से कुछ दूरी पर उतरे। तभी इलाहाबाद से हावड़ा जा रही कालका एक्प्रेस की चपेट में आ गए जिसमें महिला समेत 5 यात्रियों की मौत मौत हो गई।

यह भी पढ़ें... ताइवान: राजधानी ताइपे में चलती ट्रेन में ब्लास्ट, 21 लोग घायल

-ये पूरी घटना उस समय हुई जब ट्रेन मांडा रेलवे स्टेशन पहुंंचने वाली थी।

-ट्रेन में पत्थरों के टकराने की जोर से आवाजेंं आने लगीं और उसी के जलने की गंध भी लोगों ने महसूस की।

-इसके बाद ट्रेन में आग लगने की अफवाह फ़ैल गई और ट्रेन में बैठे लोगों ने चेेन पुलिंग कर ट्रेन को मांडा स्टेशन से पहले ही रुकवा दिया।

-डर के कारण यात्री ट्रेन से नीचे उतरने लगे और पटरी पर आकर खड़े हो गए।

-तभी इलाहाबाद की तरफ से जाने वाली कालका एक्सप्रेस आ गई और यात्रियों को रौंदती हुई निकल गई।

-इसमे 5 लोगों की मौत हो गई और कई यात्री घायल हो गए।

-मरने वालो में फिलहाल सभी बिहार और झारखण्ड के रहने वाले थे जो कि रोजी रोटी के लिए महाराष्ट्र जा रहे थे।

-मरने वाली महिला की शिनाख्त बिहार के पटना जिले के भगवतीपुर गांव की बसंती देवी के रूप में हुई है।

-अन्य चारों शवों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। घटना के काफी देर बाद रेलवे के अधिकारी घटना स्थल पर पहुंचे हैं।

-घायलों को इलाहाबाद के स्वरूपरानी हॉस्पिटल में इलाज के लिए भेज दिया गया है।

-घटना कैसे हुई और किसकी लापरवाही से हुई , इसकी जांच की जा रही है।

अधिकारियों का कहना है कि-

पांच लोगों की मौत की सूचना है मगर ट्रेन की चपेट में आने से घायल व्यक्ति जो कि झारखंड के रांची जिले का है। उसकी बात मानें तो ट्रेन की चपेट में आकर मरने वालों और घायलों की संख्या अधिक हो सकती है क्योंकि अफवाह के बाद जब ट्रेन रुकी तो उसमेंं काफी बड़ी संख्या में यात्री उतर कर पटरी पर आ गए थे।

स्थानीय लोगों का कहना है कि

ट्रेन की रफ़्तार इतनी अधिक थी कि जो लोग ट्रेन की चपेट में आए थे वो करीब दो सौ मीटर दूर तक घिसटते हुए चले गए थे।

Newstrack

Newstrack

Next Story