Top

आठवीं के छात्र ने पांच साल की बच्ची से किया रेप, पीड़ित पक्ष ही गए जेल

Admin

AdminBy Admin

Published on 19 Feb 2016 12:13 PM GMT

आठवीं के छात्र ने पांच साल की बच्ची से किया रेप, पीड़ित पक्ष ही गए जेल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बुलंदशहर: तीन दिन पहले एक पांच साल की बच्ची को आठवीं के छात्र ने दरिंदगी का शिकार बनाया। बच्ची के परिजन उसे लेकर 24 घंटे तक केस दर्ज कराने के लिए पुलिस चौकी के चक्कर लगाते रहे। दूसरे दिन एसएसपी के आदेश के बाद आरोपी के खिलाफ पोस्को एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज किया गया। गौरतलब है कि ये घटना 16 फ़रवरी की है और 17 फ़रवरी को एसएसपी के दबाव के बाद मामला दर्ज किया गया था।

बच्ची को घर के सामने से उठाया था

घटना चोला चौकी इलाके की है। तीन रोज पहले पड़ोस में रहने वाले एक 14 साल के लड़के ने 5 साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म किया। पीड़िता के पिता ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि बच्ची की मां दो दिन पहले मायके चली गई थी। घर में पीड़िता की दादी थी। इसी का फायदा उठाकर घर के सामने खेल रही मासूम को आठवीं का छात्र निक्की उठा ले गया।

पीड़ित पिता को ही पीटा

आरोप है कि आरोपी बच्ची को खंडहर में ले जाकर उसके साथ रेप किया। रेप के बाद आरोपी मासूम को डरा-धमका कर वहां से फरार हो गया। खून से लथपथ मासूम रोती-बिलखती अपने घर पहुंची और सारा वाकया दादी को बताया। दादी ने फोन पर इसकी जानकारी अपने बेटे-बहू को दी। पीड़ित पिता ने आरोपी के घर जाकर इसकी शिकायत की तो आरोपी के परिजनों ने

उनकी जमकर पिटाई की।

चौकी इंचार्ज ने डाला समझौते का दबाव

वारदात के बाद फरियाद लेकर पीड़ित पुलिस चौकी पहुंचा। चौकी इंचार्ज पीड़ित पक्ष पर पूरी रात समझौते के लिए दबाव डालता रहा। अगले दिन बेबस पिता एसएसपी पीयूष श्रीवास्तव से मिला। एसएसपी के आदेश के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

पीड़ित पक्ष का कटा चालान

पीड़ित पक्ष ने बताया कि चौकी इंचार्ज पीड़िता के पिता सहित परिवारवालों पर शांति भंग की धाराओं में चालान कर दिया। आरोप है कि चालान किए जाने से पहले करीब 18 घंटों तक बच्ची के पिता और उनके तीन भाईयों को हवालात में रखा गया।

बच्ची के मेडिकल के लिए छोड़ा

रेप के बाद बच्ची को मेडिकल की जरुरत थी। तब रात के दो बजे बच्ची के पिता को छोड़ा गया। पूरे परिवार ने 18 फरवरी को जमानत मिली। हालांकि पुलिस पूरे मामले पर साफ-साफ बोलने से बचती रही।

एसपी सिटी ने कहा :

एसपी सिटी राममोहन सिंह ने बताया कि पीड़ित के पिता की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ 376, पोस्को एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है। बच्ची का मेडिकल परीक्षण और मजिस्ट्रेट के समक्ष 364 के बयान दर्ज करावाए जा रहे हैं। आरोपी छात्र को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है।

Admin

Admin

Next Story