Top

बासी खाना खाकर बीमार हुए मुक्केबाज, प्रतियोगिता में लेने आए थे हिस्सा

कानपुर से आए खिलाड़ी दीपक वर्मा ने बताया कि वो दस तारीख को आया था। यहां किसी को भी ठीक से खाना नहीं दिया जा रहा है इसलिए 8-10 बच्चे बीमार हो गए हैं। हर टीम से 18 बच्चे आए हुए हैं, लगभग 350 खिलाड़ी यहां हैं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 14 Feb 2016 1:52 PM GMT

बासी खाना खाकर बीमार हुए मुक्केबाज, प्रतियोगिता में लेने आए थे हिस्सा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुजफ्फरनगर: जिले में चल रही राज्य स्तरीय सब जूनियर मुक्केबाजी प्रतियोगिता में बासी खाना खाने से एक दर्जन मुक्केबाज बीमार पड़ गए हैं। इसके बाद साथी खिलाड़ियों ने स्टेडियम में जमकर हंगामा किया और स्टेडियम में मिलने वाले खाने का बहिस्कार कर दिया है।

क्या है पूरा मामला?

- चौधरी चरण सिंह स्पोर्ट्स स्टेडियम में प्रदेश स्तर की बॉक्सिंग चैम्पियनशिप प्रतियोगिता चल रही है।

-इसमें हिस्सा लेने वाले खिलाड़ी बासी खाना खाने से बीमार पड़ गए।

थाली में पड़ा बासी खाना थाली में पड़ा बासी खाना

क्या कह रहे हैं खिलाड़ी

-कानपुर से आए खिलाड़ी दीपक वर्मा ने बताया कि वो दस तारीख को आया था।

-यहां किसी को भी ठीक से खाना नहीं दिया जा रहा है इसलिए 8-10 बच्चे बीमार हो गए हैं।

-हर टीम से 18 बच्चे आए हुए हैं, लगभग 350 खिलाड़ी यहां हैं।

-ज्यादातर खिलाड़ियों को बुखार है, उन्हें पाउडर वाला दूध दिया जाता है।

-चार दिन का बासी खाना दिया जा रहा है। मेडिकल की कोई व्यवस्था भी नहीं है।

बीमार हुए मुक्केबाज बीमार हुए मुक्केबाज

क्या कहते हैं अधिकारी

-जिला क्रीड़ा अधिकारी प्रेम कुमार ने खिलाड़ियों के आरोप को झूठा बताया।

-उन्होंने कहा कि हमारे बॉक्सिंग सचिव सतीश जी से मेरा विवाद हो गया था।

-इसी बात को लेकर सतीश जी बच्चों से झूठे आरोप लगवा रहे हैं।

चौधरी चरण सिंह स्पोर्ट्स  स्टेडियम चौधरी चरण सिंह स्पोर्ट्स स्टेडियम

-मेरे द्वारा अच्छी व्यवस्था की गई है, लेकिन बच्चे बॉक्सिंग संघ के कहने पर चल रहे हैं।

-वहीं जिला प्रशासन इस मामले में जांच करने की बात कह रहा है ।

Newstrack

Newstrack

Next Story