Top

यूपी के मजदूर गुजरात जा रहे थे कमाने, 9 को क्रेन ने रौंदा, 4 बच्‍चों की मौत

By

Published on 14 Aug 2016 12:09 PM GMT

यूपी के मजदूर गुजरात जा रहे थे कमाने, 9 को क्रेन ने रौंदा, 4 बच्‍चों की मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

झांसीः पूंछ थाना क्षेत्र में झांसी-कानपुर हाईवे पर रविवार को एक क्रेन ने 9 लोगों को रौंद दिया। इसमें चार बच्चों की मौत हो गई जबकि 5 घायल हो गए। बताया जा रहा है कि ये लोग पेशे से मजदूर हैं और झांसी से गुजरात कमाने जा रहे थे। आक्रोशित लोगों ने झांसी-कानपुर मार्ग पर जाम लगा दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को मोंठ हॉस्पिटल में भर्ती कराया है।

jhansi

क्‍या है पूरा मामला

-झांसी के पूंछ थाना क्षेत्र के ग्राम फतेहपुर स्टेट के पास झांसी-कानपुर हाइवे पर 9 लोग डिवाइडर किनारे खड़े होकर वाहन का इंतजार कर रहे थे।

-इसी दौरान एक क्रेन ने उन्हें टक्कर मार दी। जिससे चीख पुकार मच गई।

-राहगीरों ने क्रेन को रोक लिया और इसकी सूचना पुलिस को दी।

-सूचना मिलते ही थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को उपचार के लिए नजदीकी हॉस्पिटल भेजा।

-जहां डॉक्टरों ने तीन बच्चों को मृत घोषित कर दिया। इसकी जानकारी होते ही ग्रामीण आक्रोशित हो गए

-उन्होंने झांसी-कानपुर मार्ग पर जाम लगा दिया।

-पुलिस ने आक्रोशित ग्रामीणों को शांत कर क्रेेन को कस्‍टडी में लेकर कार्यवाही शुरू कर दी है।

यह हैं मृतक और घायल

30 वर्षीय श्रीमती ममता पत्नी हरिशकर, 32 वर्षीय श्रीमती राजाबेटी पत्नी कृपाराम, 13वर्षीय वीरेन्द्र पुत्र हरिशंकर, 05 वर्षीय अंजली पुत्री जितेन्द्र, 07 वर्षीय निशा पुत्री हरिशंकर, 03 वर्षीय यश पुत्र जितेन्द्र, 28 वर्षीय जयन्ती पत्नी जितेन्द्र, 05 वर्षीय अरुण पुत्र हरिशंकर और 06 वर्षीय कीर्ति पुत्री हरिशंकर घायल हैं। 5 वर्षीय अरुण, 6 वर्षीय कीर्ति, 5 वर्षीय अंजली और 3 वर्षीय यश की मौके पर ही मौत हो गई है।

पुलिस ने चारों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

झांसी आने के लिए वाहन का कर रहे थे इंतजार

-हॉस्पिटल में भर्ती घायलों ने बताया कि उनके घर की आर्थिक स्थिति सही नहीं है।

-जिस कारण वे गुजरात में मजदूरी करते हैं। झांसी जाने के लिए वे हाईवे पर वाहन का इंतजार कर रहे थे।

-इसी दौरान वे इस हादसे के शिकार हो गए।

Next Story