×

Sultanpur News: महज़ 9 हज़ार के लिए दोस्तों ने अपनी ही दोस्त को उतारा मौत के घाट, ऐसे रची साजिश

Sultanpur News: सुल्तानपुर में बैंक फ्रेंचाइजी करने वाले युवक की हत्या उसी के दोस्तों ने कर दी इस सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा करते हुए पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है।

Fareed Ahmed
Updated on: 2022-08-03T17:19:09+05:30
Friends murdered bank franchisee in Sultanpur for just 9 thousand rupees
X

सुल्तानपुर: हत्याकांड का खुलासा

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sultanpur News: उत्तर प्रदेश के जनपद सुल्तानपुर में बीते 26 जुलाई को बैंक फ्रेंचाइजी करने वाले युवक की हत्या उसी के दोस्तों ने कर दी इस सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा (murder case exposed) करते हुए पुलिस (UP Police) ने हत्या में शामिल दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया और लुटे हुए पैसों में से कुछ पैसों और मृतक का आधार कार्ड की बरामदगी भी कर ली, बहरहाल ये हत्याकांड पुलिस के लिए बड़ा चुनौती वाला था क्योंकि अपराधियों ने कोई सुराग ऐसा नही छोड़ा था कि आसानी से उन तक पहुंचा जा सके।

तीन थाना क्षेत्र के बीच घूमते यह हत्यारे, 28 जुलाई को वारदात को दिया था अंजाम

बीते 26 जुलाई को बैंक फ्रेंचाइजी करने वाले राहुल शर्मा की बाइक धम्म और थाना क्षेत्र के असरोगा टोल प्लाजा के पास लावारिस हालात में मिली थी परिजनों ने राहुल के गायब होने की सूचना थाना कोतवाली देहात को दी थी।लेकिन राहुल का कोई पता नही चल पा रहा था, घटना के 2 दिन बाद चांदा थाना क्षेत्र में छतौना कला जंगल मे लावारिस शव मिलने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव की शिनाख्त करवाई तो शव की पहचान राहुल शर्मा के रूप में हुई बस इसी के बाद पुलिस ने मुखबिर और अन्य संयोग से हत्यारों की तलाश शुरू कर दी।

दोस्ती करके दोस्त को बनाया निशाना

दरअसल, राहुल शर्मा कामतागंज में बैंकिंग सेवा केंद्र का संचालन करता रहा इसी दौरान उसकी दोस्ती पिन्टू उर्फ तेजबहादुर तिवारी से हो गई जिसने बताया कि भरथीपुर का रहने वाला राहुल शर्मा जो कि कामतागंज बाजार (Kamtaganj Bazar) में बभनगवाँ रोड पर बैंकिंग सेवा केन्द्र का संचालन करता था, से मेरी कुछ दिनों से दोस्ती हो गयी थी राहुल शर्मा अक्सर मेरे साथ मेरी बहन के यहाँ आया जाया करता था तथा रुकता भी था उसके द्वारा बैंकिंग सेवा केन्द्र पर रोजाना किये जा रहे रुपयों के लेनदेन से मेरी नीयत खराब होने लगी मैंने योजना बनाया कि क्यों न बहका करके इसकी हत्या कर रुपया लूट ले।

बस यहीं से शुरू हुई राहुल की हत्या की योजना जिसमे उसके दो एयर साथियों ने साथ निभाया बहरहाल पुलिस ने दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर पूरे मामले का खुलासा कर दिया है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story