×

Meerut News: एनसीईआरटी की नकली किताबें बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, चार गिरफ्तार

Meerut News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मेरठ शहर की थाना ब्रह्मपुरी पुलिस ने एनसीईआरटी (NCERT) की नकली किताब बनाने वाले गिरोह का भंड़ाफोड़ किया है।

Sushil Kumar
Updated on: 10 Aug 2022 1:24 PM GMT
Gang making fake NCERT books busted in Meerut, four arrested
X

मेरठ: एनसीईआरटी की नकली किताबें बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Meerut News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मेरठ शहर की थाना ब्रह्मपुरी पुलिस ने एनसीईआरटी (NCERT) की नकली किताब बनाने वाले गिरोह का भंड़ाफोड़ किया है। इस मामले में पुलिस ने चार अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। एएसपी ब्रह्मपुरी विवेक यादव (ASP Brahmapuri Vivek Yadav) की अगुवाई में थाना ब्रहमपुरी पुलिस ने दिल्ली रोड स्थित सूर्यापुरम कॉलोनी के एक मकान में छापा मार कर मौके से बड़ी मात्रा में नकली किताबें बरामद कीं। इस दौरान पुलिस (UP Police) ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले की जानकारी एनसीईआरटी के अधिकारियों को दी गई है।

जिला पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक कुछ समय से सूचना मिल रही थी कि सूर्यापुरम कॉलोनी में एनसीईआरटी की नकली किताबों का कारोबार संचालित किया जा रहा है। इसके चलते ब्रह्मपुरी पुलिस ने छापा मारा। जहां पर एनसीईआरटी की नकली किताब छापने का काम चल रहा था।

गिरफ्तार अभियुक्तों के नाम सूर्यापुरम शास्त्री कालोनी निवासी अभिलाष राजपूत पुत्र स्व. राजकुमार श्याम नगर थाना लिसाड़ी गेट निवासी रहीशुद्दीन पुत्र नूर मौहम्मद, ग्राम शाहपुर चौधरी थाना गढमुक्तेश्वर जनपद हापुड निवासी आबिल उर्फ आदिल पुत्र ईदू मेवाती एवं देवलोक थाना टीपी नगर निवासी सत्येन्द्र कुमार पुत्र ब्रजपाल सिंह हैं।

नकली, कूटरचित एनसीईआरटी की किताबें बरामद

गिरफ्तार अभियुक्तों के कब्जे से नकली, कूटरचित एनसीईआरटी की 3470 किताबे व एक टाटा (छोटा हाथी) बरामद किया गया । इस मामले में गिरफ्तार अभियुक्तों के खिलाफ थाना ब्रहमपुरी पर मु0अ0स0 239/22 धारा 420,467,468,471भादवि व 63/65 कापीराइट एक्ट पंजीकृत किया गया ।

पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक एक सूचना के आधार पर सोमवार शाम सूर्यापुरम कॉलोनी स्थित एक मकान पर टीम गठित कर छापा मारा गया था। मकान में काफी दिन से अवैध रूप से एनसीईआरटी की नकली किताबें तैयार की जा रही थीं। मकान के अंदर से लाखों रुपये कीमत की किताबें मिली हैं। बता दें कि मेरठ में पहले भी कई बार एनसीईआरटी की नकली किताबों का जखीरा बरामद किया जा चुका है।

किताबों के छापने का बड़ा नेटवर्क

परतापुर स्थित औद्योगिक क्षेत्र में पुलिस, के साथ ही एसओजी और एसटीएफ ने छापा मारने से भाजपा तक में हड़कंप मच गया था। भाजपा नेता के यहां छापेमारी में एनसीईआरटी की नकली किताबों के छापने का बड़ा नेटवर्क सामने आया था। जिसके तार देश की राजधानी दिल्ली के अलावा अन्य राज्यों में भी फैले हुए थे।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story