Top

पुलिस ने नहीं लिखी FIR, गैंगरेप विक्टिम ने किया आत्मदाह

Admin

AdminBy Admin

Published on 20 March 2016 1:17 PM GMT

पुलिस ने नहीं लिखी FIR, गैंगरेप विक्टिम ने किया आत्मदाह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आगरा: गैंगरेप की शिकायत दर्ज न किये जाने पर पीड़िता द्वारा थाने में आत्मदाह कर लेने का मामला सामने आया है। इस मामले को लेकर क्षेत्र में काफी आक्रोश है। परिजनों ने ऐलान किया है कि इस मामले में जबतक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की जाएगी तबतक पीड़िता का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे।

public with father

क्या है पूरा मामला

-यह मामला आगरा के सिकंदरा थाने का है।

-थाना क्षेत्र में स्थित विनायकनगर इलाके में रहने वाले अनीता (काल्पनिक नाम) का मां बीते दिन किसी काम से घर से बाहर गई थी।

-अनीता को घर में अकेला पाकर पड़ोस में रहने वाले तीन लड़कों ने उससे गैंगरेप किया।

-मां के घर पहुंचने पर अनीता ने सारी आपबीती अपने परिजनों को सुनाई।

-इसके बाद अनीता के पिता उसे अपने साथ लेकर मामला दर्ज करवाने सिकंदरा थाना पहुंचे।

-थाना पुलिस ने मामला दर्ज करने के बजाय उन्हें वहां से भगा दिया।

-अनीता ने बीती रात अपने घर में आत्मदाह करने का प्रयास किया।

-परिजनों ने अनीता को इलाज के लिए एसएन हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया।

-रविवार सुबह करीब नौ बजे पीड़ित अनीता की मौत हो गई।

परिजनों ने पुलिस पर लगाया आरोप

-परिजनों का आरोप है कि रात में ही तीन युवकों के खिलाफ थाने में तहरीर दी।

-पुलिस को दी गई तहरीर में विश्नू बघेल, जैकी और एक अन्य को नामजद किया गया।

-लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज करने के बावजूद पीड़िता और उसके पिता को थाने से भगा दिया।

-लेकिन इसके बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

मृतका के पिता मृतका के पिता

क्या कहना है पुलिस का

-सिकंदरा थाने के एसओ अनिल कुमार यादव का कहना है कि शनिवार शाम को जैकी और अनीता को एक कमरे में देखा गया था।

-मोहल्ले के लोगों ने उन्हें पकड़ा था।

-इसी कारण घर पहुचंकर अनीता ने आत्मघाती कदम उठा लिया।

सिकंदरा थाना अध्यक्ष सिकंदरा थाना अध्यक्ष

डॉक्टर और दरोगा को दिया मरने से पहले बयान

-मृतका के पिता गौरीशंकर ने बताया कि मृतका ने दम तोड़ने से पहले ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक और दरोगा को उसके साथ हुई पूरी घटना को बताया

-मृतका ने तीनो आरोपियों के नाम भी बताए हैं।

-तीनों आरोपी युवक क्षेत्र के ही है।

Admin

Admin

Next Story