Top

दलित स्टूडेंट से 3 लड़कों ने किया था गैंगरेप, VIDEO हुआ वायरल

Admin

AdminBy Admin

Published on 13 April 2016 4:56 PM GMT

दलित स्टूडेंट से 3 लड़कों ने किया था गैंगरेप, VIDEO हुआ वायरल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बरेली : करीब 4 महीने पहले एक दलित स्टूडेंट के साथ 3 लड़कों ने गैंगरेप किया था। आरोपियों ने इसकी वीडियो क्लिपिंग भी बना ली थी। यह वीडियो 11 अप्रैल को आरोपियों ने ही वायरल कर दिया है। विक्टिम के गांव के लोगों में इस कांड के बाद से बेहद गुस्सा है।

क्या था मामला ?

-बहेड़ी के एक गांव के खेत में दरिंदों ने 20 दिसंबर 2015 को दलित स्टूडेंट का गैंगरेप किया।

-विक्टिम के मुताबिक़ उस दिन दोपहर करीब 11 बजे गांव के पास प्राइमरी स्कूल से 200 कदम की दूरी पर वह शौच के लिए गई थी।

-जब वह घर लौट रही थी तो वहां पहले से घात लगाए बैठे गांव के ही प्रदीप, रवींद्र और पड़ोस के गांव खड़ा रामनगर के मनोज ने उसे दबोच लिया।

-तीनों आरोपी विक्टिम को पास के ही गांव के खेत में खींचकर ले गए।

-तीनों ने विक्टिम के साथ गैंगरेप किया और वीडियो क्लिपिंग बनाकर उसे दिखाई।

-तीनों लड़कों ने विक्टिम को धमकाया कि अगर उसने मुंह खोला वीडियो वायरल कर देंगे।

गैंगरेप का वीडियो किया वायरल

-11 अप्रैल को आरोपी मनोज ने वीडियो क्लिपिंग अपने मोबाइल से वायरल कर दी।

-वीडियो सबसे पहले गांव वालों के पास पहुंचा।

-उसके बाद 12 अप्रैल को आसपास के गांव के अन्य लोगो के मोबाइल तक यह वीडियो क्लिपिंग पहुंच गई।

रेप विक्टिम रेप विक्टिम

विक्टिम ने भाई को बताई आपबीती

-विक्टिम के भाई को जब वीडियो क्लिपिंग की बात गांव वालों से पता चली, तो उसने घर जाकर अपनी बहन से सख्ती से पूछताछ की।

-विक्टिम ने भाई को आपबीती सुनाई तो वह आग बबूला हो गया।

-विक्टिम के परिजनों ने यह बात गांव के प्रधान को बताई और उनके साथ गांव के लोग थाने पहुंचे।

-पुलिस को तहरीर देकर तीनों आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप और एससीएसटी एक्ट के तहत केस दर्ज कराया।

-पुलिस ने विक्टिम का डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में मेडिकल कराया है।

-इस घटना के बाद से पूरा परिवार विक्टिम के साथ है।

दरिंदों से संघर्ष करती रही विक्टिम

-वीडियो क्लिपिंग में लगातार विक्टिम दरिंदों से संघर्ष करती नजर आ रही है।

-बेबस होकर वह चुपचाप हो जाती है।

-जैसे ही उसे मौका मिलता है विक्टिम विरोध करने लगती है।

-वीडियो में पहले दरिंदगी मनोज कुमार ने की इसके बाद उसके साथियों ने लड़की को हवस का शिकार बनाया।

उसके दर्द पर लगा रहे थे ठहाके

-वीडियो क्लिपिंग में विक्टिम को दरिंदों ने जानवरों की तरह नोचा।

-वह लगातार इज्जत की दुहाई दे रही थी, चीख रही थी, उनसे छोडे़ जाने की मिन्नते कर रही थी।

-वह दर्द से बुरी तरह छटपटा रही थी, मगर दरिंदे उसके दर्द पर ठहाके मार कर हंस रहे थे।

फांसी के फंदे तक पहुंचाकर दम लूंगी

-पुलिस के सामने विक्टिम आपबीती सुनाते हुई रो पड़ी और कहा कि अब तक तो वह इज्जत की खातिर चुप थी।

-अब इज्जत सरेआम हो गई तो डर किस बात का है।

-रेप के आरोपियों को फांसी के फंदे तक पहुंचाकर रहूंगी।

-जनवरी से आरोपी मनोज, प्रदीप और रवींद्र गैंगरेप की वीडियो वायरल कर उसकी इज्जत पूरे गांव के सामने नीलाम करने की धमकी दे रहे थे।

-इसी गम में विक्टिम ने जीने की चाह ही छोड़ दी थी।

-घटना के बाद से उसने खाना पीना बंद कर दिया था।

-इस बार विक्टिम ने प्राइवेट फॉर्म भरकर हाईस्कूल का एक्जाम दिया था।

क्या कहती है पुलिस

-विक्टिम के गांव के लोगों में इस कांड के बाद से बेहद गुस्सा है।

-थाना बहेड़ी के सामने विक्टिम परिवार के लोग जोर-जोर से चिल्लाते हुए कह रहे थे कि पुलिस की कार्रवाई अपनी जगह है।

-वह इज्जत का बदला लेकर ही रहेंगे। इस बदनामी को वो बर्दाशत नही कर पा रहे हैं।

पुलिस ने 1 आरोपी को गिरफ्तार किया

-थाना बहेड़ी के प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार श्रोतिया ने कहा कि एक आरोपी को गिरफतार कर लिया गया है।

-बाकी 2 की तलाश में पुलिस की 3 टीमें लगा दी गई है, जल्द दोनों आरोपियों को भी गिरफतार कर लिया जाएगा।

-इस तरह का घिनौना काम करने वालों के साथ किसी तरह की नरमी नही बरती जाएगी।

-एसपी देहात यमुना प्रसाद, का कहना है कि तीनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज हुआ है।

-आरोपियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

-जल्द ही उन्हे पकड़ कर जेल भेजा जाएगा।

इससे पहले भी गैंगरेप का वीडियो हुआ था वायरल

-साल 2012 में गांव जोखनपुर में विक्टिम के साथ नगर के गन्ना उत्पादक डिग्री कॉलेज के पास एक खेत में पांच लोगो ने गैंगरेप की वीडियो बनाकर उसे इंटरनेट पर वायरल कर दिया था।

-बाद में पुलिस ने पांचों आरोपियों को जेल भेज दिया था।

Admin

Admin

Next Story