×

Gonda News: पेश की गई मानवता की मिशाल, न्यूरो सर्जन ने किया घायल गाय का इलाज

गोंडा में अज्ञात वाहन ने एक गाय के मुंह को बुरी तरह से कुचल दिया था, जिसके बाद न्यूरो सर्जन ने घायल गाय का उपचार किया।

Network

NetworkNewstrack NetworkChitra SinghPublished By Chitra Singh

Published on 13 Jun 2021 7:23 AM GMT

injured cow
X

घाय गाय का इलाज

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Gonda: गोंडा में डॉक्टरों ने पहली बार किसी पशु का इलाज कर मानवता की एक नई तस्वीर पेश की है। शहर के नारी ज्ञानस्थली के अज्ञात वाहन ने एक गाय (Cow) के मुंह को बुरी तरह से कुचल दिया था। जिस कारण गाय का निचला जबड़ा टूटकर लटक गया था। फिर नेचर क्लब फाउंडेशन (Nature Club Foundation) के माध्यम से व पशु चिकित्सालय (Animal Hospital) के पैरावेट राजेश पाण्डेय के सहयोग से गाय का देखभाल व उपचार शुरू किया गया, लेकिन गाय को बहुत राहत नहीं मिल सकी, जिसके बाद वरिष्ठ न्यूरो सर्जन डॉ. सत्यजीत पांडा और डॉ. सागरिका महापात्रा (Neuro Surgeons Dr. Satyajit Panda and Dr. Sagarika Mohapatra) ने गली में ही गाय का ऑपरेशन कर उसको दर्जनों टांके लगाकर उसका इलाज किया।

गोण्डा में ये पहली बार है कि एक जानवर का ऑपरेशन इंसानों के डॉक्टर ने किया है। डॉक्टर द्वारा यह ऑपरेशन बीच सड़क पर ही क़िया गया जो अब चर्चा का केंद्र बना है। इस मुहिम की शुरुआत स्थानीय निवासी एल एम द्विवेदी व उनके परिवार के कैलाश के द्वारा हुई जो गलियों के पशुओं को भोजन-पानी आदि देने का कार्य करते हैं। फिर उन्होंने नेचर क्लब के अभिषेक दुबे से इस गाय के उपचार के लिए सहयोग मांगा और फिर कारवां जुड़ गया। युवाओं की फौज ने डॉ. सत्यजीत पांडा व राजेश के साथ मिलकर इस गाय को नया जीवन देने का काम किया।

नेचर क्लब के अभिषेक अब इस गाय की दवा पानी व उसे समय समय पर इंजेक्शन लगाने का कार्य कर रहे हैं। वहीं कालोनी के लोग मिलकर इस गाय की देखभाल भी कर रहे हैं। लेकिन यह हैरानी की बात है कि जिले में गौशाला केंद्र होने के बावजूद प्रशासन की लापरवाही का ही नतीजा है कि सड़कों पर आए दिन पशु अपनी जान गंवाने को मजबूर हो रहे हैं।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story