×

Gonda News: जब मामी-भांजे की अर्थी निकली एक साथ, तकिये के नीचे छिपा था सांप

रात के करीब एक बजे जहरीले सांप ने पहले भांजा दिव्यांशु को काटा। नींद में होने की वजह से पता नहीं चला। इसके थोड़ी देर बाद ही सांप ने वंदना को भी काट लिया।

Tej Pratap Singh

Tej Pratap SinghReport Tej Pratap SinghShashi kant gautamPublished By Shashi kant gautam

Published on 22 Jun 2021 1:44 AM GMT

In Gonda district, aunt and nephew were bitten by a snake
X

गोंडा जिले में मामी-भांजे को सांप ने कटा: फोटो- सोशल मीडिया  

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Gonda News: उत्तर प्रदेश के जनपद गोंडा में मामी और भांजे की अर्थी एक साथ निकली इस घटना से पूरे इलाके में मातम छा गया है। यह घटना जिले के इंटियाथोक थाना क्षेत्र के कुरशहा गांव में घटी है। गांव के ही निवासी राजेश तिवारी की 35 वर्षीय पत्नी वंदना तिवारी और 7 वर्षीय भांजा दिव्यांशु पुत्र रवि शुक्ला निवासी बहराइच जनपद के रघुराम पुरवा विशेसर गंज को जहरीले सांप ने एक साथ काट लिया। जिससे दोनों की एक साथ मृत्यु हो गई।

बताया जा रहा है कि मृतका वंदना के भाई दीन दयाल शुक्ला निवासी पथवलिया कोतवाली नगर ने बताया कि उस की बड़ी बहन वंदना और बहनोई राजेश तिवारी का भांजा दिव्यांशु सहित चार लोग घर में एक कमरे पर डबल बेड पर सो रहे थे। रात्रि के करीब एक बजे जहरीले सांप ने पहले भांजा दिव्यांशु को काट लिया। नींद में होने की वजह से जानकारी नहीं हो पाई। इस के थोड़ी देर बाद ही सांप ने वंदना को भी काट लिया। वंदना को लगा कि किसी ने कुछ चुभा दिया है। उसने बगल में सो रहे लोगों को जगाया जिसके बाद घर के सभी लोग आ गए।

तकिये के नीचे छिपा था सांप

देखते ही देखते थोड़ी देर बाद ही वंदना की तबियत खराब होने लगीं। उधर बेड पर सो रहे दिव्यांशु जगाने के बाद भी नहीं उठा। शक होने पर तकिया को हटाया गया। तो देखा गया कि सांप तकिये के नीचे छिपा था। दोनों को पहले वहीं पर झाड़-फूंक कराया गया। आराम नहीं मिला तो गोण्डा शहर के एक निजी नर्सिंग होम में लाया गया। थोड़ी देर इलाज चलने के बाद दोनों की मृत्यु हो गई। घटना की जानकारी लोगों को मिलते ही तमाम लोग घर पर पहुंच गए। इस दर्दनाक घटना से पूरे गांव में कोहराम मच गया। बताया गया है कि भांजा दिव्यांशु कुछ दिनों पूर्व ही आया था।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story