Top

Gorakhpur News: चंद घंटे पहले लगा था रेप का आरोप, अखिलेश यादव ने बनाया जिला पंचायत अध्यक्ष का उम्मीदवार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में समाजवादी पार्टी ने चंद घंटे पहले रेप के आरोपी बताए जा रहे आलोक गुप्ता को अध्यक्ष का उम्मीदवार घोषित किया है।

Gorakhpur News: चंद घंटे पहले लगा था रेप का आरोप, अखिलेश यादव ने बनाया जिला पंचायत अध्यक्ष का उम्मीदवार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Gorakhpur News: जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद सियासी पैतरेबाजी चरम पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में समाजवादी पार्टी ने चंद घंटे पहले रेप के आरोपी बताए जा रहे आलोक गुप्ता को अध्यक्ष का उम्मीदवार घोषित किया है। पुलिस जहां महिला की तहरीर पर जांच में जुटी है, वहीं सपा का आरोप है कि सत्ता के इशारे पर जिला पंचायत सदस्य को साजिश के तहत फंसाया जा रहा है।

जिलाध्यक्ष नगीना प्रसाद साहनी ने गुरुवार को चिल्लूपार विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत वार्ड सं 46 से नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य आलोक गुप्ता को समाजवादी पार्टी ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए प्रत्याशी घोषित किया है। आलोक पर बीते मंगलवार को एक महिला ने नौकरी के नाम पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था। उसने यहां तक कहा कि नाबालिग उम्र की लड़कियों से जिला पंचायत सदस्य धंधा कराते हैं।

नाबालिग उम्र की लड़कियों से जिला पंचायत सदस्य धंधा कराते हैं

जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने जिला पंचायत सदस्य आलोक गुप्ता के खड़ेसरी स्थित आवास ओम साई ट्रेडर्स आरसीएम सेंटर पर पहुंच कर वहां लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज देखने के बाद उसका डीबीआर निकालकर अलग कर दिया था। इसकी सूचना सपा केंद्रीय नेतृत्व को मिलने के बाद बुधवार को जिलाध्यक्ष ने पत्र जारी कर अधिकृत रुप से आलोक गुप्ता को जिला पंचायत अध्यक्ष का प्रत्याशी घोषित कर दिया।

कोतवाल मनोज राय ने कहा कि महिला द्वारा जिला पंचायत सदस्य आलोक गुप्ता पर दुष्कर्म करने की तहरीर मिली है, उसपर जांच जारी है। उधर, प्रत्याशी घोषित किये जाने के बाद आलोक गुप्ता ने कहा कि पूरे प्रकरण को लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से वार्ता हुई। उन्होंने कहा कि भाजपा की साजिश से डरने की नहीं लड़ने की जरूरत है। गोरखपुर से सपा की जीत एक बार फिर होगी।

सपा और भाजपा में है मुकाबला

68 सदस्यों वाले सदन में जीत का दावा सपा के जिलाध्यक्ष कर रहे हैं। जिलाध्यक्ष का कहना है कि सपा के समर्थन से 12 सदस्य जीते हैं। इतने ही सदस्य सपा की विचारधारा वाले हैं। निर्दलीय भी हमारे समर्थन में है। आसानी से जीत हासिल करेंगे। गोरखपुर में अध्यक्ष की लड़ाई सपा और भाजपा में ही होनी है। भाजपा ने अभी उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है। हालांकि पूर्व मंत्री फतेह बहादुर सिंह की पत्नी साधना सिंह और माया शंकर शुक्ला में टिकट को लेकर होड़ है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story