×

Gorakhpur News: हिस्ट्रीशीटर ने दिव्यांग की जमीन करा ली थी रजिस्ट्री, प्रशासन ने जब्त की तीन करोड़ की संपत्ति

Gorakhpur News: फर्जी दस्तावेज तैयार कराकर बैनामा करा लिया। इसके पहले उसे करोड़ों रुपये कीमत की जमीन का बिना भुगतान किए जालसाजी से रजिस्ट्री कराने के मामले में जेल हुई थी।

Purnima Srivastava
Published on: 19 Feb 2024 8:09 AM GMT (Updated on: 19 Feb 2024 8:25 AM GMT)
Gorakhpur News
X

Gorakhpur News (Photo: Newstrack)

Gorakhpur News: कहते हैं बुरे काम का बुरा नतीजा। यह बात सोमवार को चौरीचौरा के हिस्ट्रीशीटर ईश्वरचंद जायसवाल ही नहीं उसके जैसे हजारों लोगों को समझ में आई होगी। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के चौरीचौरा में पुलिस और प्रशासन की टीम ने सोमवार को बड़ी कार्रवाई की है। टीम ने हिस्ट्रीशीटर ईश्वरचंद जायसवाल उर्फ पिंटू की जमीन और मकान को कुर्क कर लिया है। आरोप है कि ईश्वरचंद ने दिव्यांग की जमीन धोखे से रजिस्ट्री करा ली। जब्त की गई कुल संपत्ति की कीमत करीब तीन करोड़ रुपये बताई जा रही है।

जिलाधिकारी के निर्देश पर सोमवार को तहसील और स्थानीय थाने की पुलिस हिस्ट्रीशीटर ईश्वरचंद जायसवाल के मकान पर पहुंची। भारी भीड़ के बीच जमीन और मकान को कुर्क करने की प्रक्रिया हुई। इस दौरान कोई विरोध करने तक को नहीं है। बता दें कि शत्रुघनपुर निवासी हिस्ट्रीशीटर ईश्वरचंद जायसवाल उर्फ पिंटू पिछले कुछ दिनों से सुर्खियों में हैं। पिछले दिनों पुलिस ने ईश्वरचंद सहित पांच लोगों पर कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर एक मानसिक रूप से दिव्यांक व्यक्ति की जमीन बैनामा कराने में केस दर्ज कराया था। झंगहा के ब्रम्हपुर के टोला पिपरपाती निवासी दिवाकर सिंह ने पुलिस को तहरीर दी थी कि उनके बड़े भाई रमेश सिंह मानसिक दिव्यांग हैं। भाई के पास न तो आधार कार्ड है और न ही कोई बैंक अकाउंट। पिता के मृत्योपरांत हम दोनों भाई और माता के नाम पर खतौनी में वरासत दर्ज हुआ।

हिस्ट्रीशीटर, गैंगस्टर ईश्वरचंद जायसवाल उर्फ पिंटू ने कप्तानगंज के मंसूरगंज निवासी रिश्तेदार प्रिंस जायसवाल, चौरीचौरा के देवकहिया के शेषनाथ, राजू सिंह और झंगहा के दुबौली निवासी सुनील जायसवाल के साथ साजिश के तहत हमारे भाई को किसी होटल में ठहराया। इसके बाद कई गाटों में स्थित भूमि का फर्जी दस्तावेज तैयार कराकर बैनामा करा लिया। इसके पहले उसे करोड़ों रुपये कीमत की जमीन का बिना भुगतान किए जालसाजी से रजिस्ट्री कराने के मामले में जेल हुई थी।

बता दें कि चौरीचौरा थाना में डुमरी खास निवासी खेदू पुत्र जगई गौड़ ने फुटहवाइनार निवासी व हिस्ट्रीशीटर ईश्वरचंद उर्फ पिंटू जायसवाल पर जालसाजी से करोड़ों रुपये कीमत की जमीन रजिस्ट्री करा लेने का आरोप लगाया था। जमीन खरीद की जालसाजी में पिंटू जायसवाल ने विक्रेता खेदू को एक रुपये भी भुगतान नहीं किया था। जालसाजी से रजिस्ट्री में उसका साथ देवकहिया निवासी शेषनाथ यादव ने दिया था।


Snigdha Singh

Snigdha Singh

Leader – Content Generation Team

Hi! I am Snigdha Singh from Kanpur. I Started career with Jagran Prakashan and then joined Hindustan and Rajasthan Patrika Group. During my career in journalism, worked in Kanpur, Lucknow, Noida and Delhi.

Next Story