×

गोरखपुर में जल्द ही संस्कृति संग्रहालय शुरू होगा : महेश शर्मा

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 13 Feb 2018 12:07 PM GMT

गोरखपुर में जल्द ही संस्कृति संग्रहालय शुरू होगा : महेश शर्मा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने मंगलवार को कहा कि उत्तर प्रदेश की संस्कृति की झलक दिखाने वाला एक संग्रहालय गोरखपुर जिले में जल्द ही शुरू किया जाएगा। महेश शर्मा ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, "आगामी संग्रहालय गुरु गोरखनाथ के जीवन की झलक दिखाएगा। इससे क्षेत्र की संस्कृति को मजबूती प्रदान करने में मदद मिलेगी।"

मंत्री ने कहा कि दो दिन पहले उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की थी, जहां उन्होंने संग्रहालय का प्रस्ताव दिया।

ये भी देखें : पर्यावरण राज्य मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने कटवाए 100 पेड़, NGT ने लगाई फटकार

महेश ने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश के लिए दो और संग्रहालय तय कर लिए गए हैं। एक इलाहाबाद में और दूसरा अयोध्या में होगा।

मंत्री ने कहा, "इलाहाबाद के संग्रहालय में मशहूर कुंभ मेले को दर्शाया जाएगा, जबकि अयोध्या का संग्रहालय भगवान राम को समर्पित होगा, जो वर्चुअल माध्यम से पेश किया जाएगा।"

उन्होंने कहा कि इस पर काम पहले ही शुरू हो चुका है और वह उम्मीद करते हैं कि जल्द ही यह जनता के लिए खुल जाएगा।

पहले गोरखपुर संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व आदित्यनाथ किया करते थे, जो इस क्षेत्र से पांच बार सांसद रह चुके हैं। मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने इस संसदीय सीट से इस्तीफा दे दिया।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story