Top

गवर्नर ने फिर वापस की MLC चयन की फाइल, कहा- कई के खिलाफ क्रिमिनल केस

Admin

AdminBy Admin

Published on 28 March 2016 11:37 AM GMT

गवर्नर ने फिर वापस की MLC चयन की फाइल, कहा- कई के खिलाफ क्रिमिनल केस
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ:गवर्नर राम नाईक ने विधान परिषद सदस्य नामित करने की फाइल सोमवार को फिर वापस भेज दी है। उनका कहा कि इनमें कई के विरूद्ध आपराधिक मामले थे और वे संविधान के अनुच्छेद 171(5) के तहत पांच क्षेत्रों साहित्य, विज्ञान, कला, सहकारी आन्दोलन और समाज सेवा में से किसी भी क्षेत्र में विशेष ज्ञान अथवा व्यवहारिक अनुभव नहीं रखते हैं। इसलिए उन्हें विधान परिषद का सदस्य नामित नहीं किया जा सकता है।

इनके एमएलसी मनोनयन से राज्यपाल ने किया इंकार

राम नाईक ने पूर्व में भेजे गए पांच नामों को वापस करते हुए उनके एमएलसी मनोनयन से इंकार किया। इनमें डॉ.कमलेश कुमार पाठक, संजय सेठ, रणविजय सिंह, अब्दुल सरफराज खान और डॉ.राजपाल कश्यप हैं।

यह भी पढ़ें:- गवर्नर का पलटवार, कहा- सरकार के काम की निगरानी करना मेरी जिम्मेदारी

नये नामों की संस्तुति के साथ भेजें पत्रावली

राम नाईक ने सीएम को इस संबंध में भेजे गए अपने पत्र में कहा कि सीएम अखिलेश यादव के आश्वासन के अनुसार नये नामों की संस्तुति के साथ फाइल भेजी जाए।

सीएम और गवर्नर के बीच हुई थी चर्चा

गवर्नर ने अपने पत्र में यह भी उल्लेख किया है कि उनके और सीएम अखिलेश यादव के बीच कई बैठकों में इसको लेकर चर्चा हुई थी। सीएम ने उन्हें आश्वस्त किया था कि वह नए नामों का प्रस्ताव भेजेंगे, किन्तु अभी नए नाम की सूची राजभवन को प्राप्त नहीं हुई है।

Admin

Admin

Next Story