Top

PM ने जाना गोद लिए गांव का हाल, प्रधान ने सौंपा दुर्दशा का पत्रक

By

Published on 17 Aug 2016 6:49 AM GMT

PM ने जाना गोद लिए गांव का हाल, प्रधान ने सौंपा दुर्दशा का पत्रक
X
pm modi aadarsh village jayapur
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वाराणसीः अपने अंदाज से सबको चौकाने वाले पीएम मोदी ने वाराणसी में गांव से लेकर शहर तक के जनप्रतिनिधियों को उस वक्त चौका दिया जब पीएम मोदी ने उनसे मिलने का उन्हें बुलावा भेजा, पीएम मोदी के इस बुलावे पर उनके संसदीय क्षेत्र के सेवापुरी विधानसभा क्षेत्र के राजातालाब और जंसा मंडल में आने वाले गांवों से कुल 98 प्रधान मोदी से मिले।

मोदी ने सभी को विकास का मंत्र दिया तो किसानी के गुण भी बताए लेकिन इन सब से हट कर मोदी ने अपने गोद लिए गांव जयापुर का हाल भी पूछा जिसे उस गांव के प्रधान ने एक पत्रक के माध्यम से पीएम को सौंपा, दरअसल उस पत्रक में मोदी के गोद लिए गांव की वो दुर्दशा है जिसे उन तक पहुंचाने के लिए जयापुर गांव के प्रधान विशेष रूप से मोदी से मिलने गए थे।

pm meet gram pradhan

पीएम ने जाना अपने गोद लिए गांव का हाल

पीएम मोदी ने हमेसा से ही किसानों के लिए बातें की हैं और इसीलिए उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र के प्रधानों से मुलाकात कर गांवों के विकास की उनसे बात की। मगर जिस विकास को मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र में गोद लिए हुए गांव जयापुर में दिखाया था आज वो जर्जर हालात में पहुंच चुका है। वहां न सोलर लाइट बची है और ना ही सड़कें। गांव में सोलर लाइट के दर्जनों खम्बे लगाए गए थे जो अब न तो चल रहे हैं और न ही चलने लायक हैं। इन सोलर लाइटो से चोरों ने बैटरियां ही गायब कर दी हैं तो वहीं एक साल पहले चमचमाती हुई सड़क भी अब दुर्दशा की वह हालात बयान कर रही है जिससे उनके विपक्षियों को बोलने का मौका मिलने लगा है।

pm modi withn gram pradhan

ग्राम प्रधान ने सौंपा दुर्दशा का पत्रक

पीएम मोदी ने जब अपने गोद लिए हुए गांव के बारे जाना होगा तो वो भी काफी चिंतित हुए होंगे। मोदी सभी प्रधानों से मिलने के बाद जयापुर गांव के प्रधान से मिलकर उनसे भी उस गांव का कुशल क्षेम पूछा, तो प्रधान नारायण पटेल ने गांव की दुर्दशा की कहानी से उन्हें अवगत कराया और उन्हें एक पत्रक सौंपा। इसमें सड़क से लेकर बिजली तक की दुर्दशा लिखी गई थी। हालांकि गांव के प्रधान को विश्वास है कि पीएम मोदी एक बार फिर इस गांव की तरफ रूख करेंगे और ये गांव फिर से वैसा होगा जैसा उनके गोद लेने के बाद हुआ था।

aadarsh village jayapur फोटोः जयापुर गांव की टूटी सड़कें

पीएम ने की स्वच्छता पर चर्चा

इसके अलावा वाराणसी से गए सभी प्रधान पीएम मोदी से मिलकर काफी उत्साहित दिखे। इस दौरान प्रधानों ने कहा कि पीएम मोदी गांवों के विकास के लिए काफी उत्साहित हैं। उन्होंने खेती करने के लिए किसानों को मिट्टी की जांच करने के लिए भी कहा और कहा की मिट्टी के जांच से पता चलेगा की किस मिट्टी में किसकी खेती करें, जिससे उन किसानों को फायदा होगा। इस दौरान पीएम मोदी ने स्वच्छता पर भी चर्चा की।

aadarsh village jayapur फोटोः सोलर लाइट से गायब बैटरी

गुजरात के विकसित गांवों के बारे में जाना

मोदी से मिलने के अलावा ये प्रधान गुजरात गए जहां विकसित गांवों का दौरा किया और वहां के गांवों में होने वाला व्यवसाय जाना और उसे अपनाने के उपाय पूछे। सारे प्रधान काफी उत्साहित रहे लेकिन जयापुर की दुर्दशा मोदी के इस विकास रथ में वो सवाल खड़े कर रही है। जहां विकास के नाम पर बस काम भर होता है।

Next Story