हाथरस: प्रियंका चला रही कार, राहुल के साथ इतनी ज्यादा गाड़ियां, लगा भीषण जाम

मीडिया से बातचीत में पीड़िता की भाभी ने बताया ‘कल यहां कोई एसआईटी की टीम नहीं आई थी। परसों पूछताछ हुई थी। डीएम साहब बोलते थे कि तुम्हारी बेटी अगर कोरोना से मर जाती तो क्या कर लेते।

Priyanka Gandhi

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी की गाड़ी चलाते हुए फोटो(सोशल मीडिया)

लखनऊ: यूपी के हाथरस जिले में गैंगरेप का मुद्दा लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। इस घटना के सामने आने के बाद से सियासत उफान पर है। यूपी से लेकर दिल्ली तक इस घटना के खिलाफ आवाजें उठने लगी है।

दिल्ली से हाथरस जाने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज पूरे लाव-लश्कर के साथ निकले। डीएनडी पहुंचे राहुल की कार खुद बहन प्रियंका गांधी चला रही थीं।

राहुल और प्रियंका के साथ 35 सांसदों का डेलीगेशन भी है। अपने नेता को देख कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के समर्थन और सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। प्रदर्शन की वजह से डीएनडी पर जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई है। कई किलो मीटर लंबा जाम लग गया है।

एम्बुलेंस के भी फंसने की सूचना है। लोगों न बताया कि जाम में फंसे हुए दो से तीन घंटे का वक्त पूरा हो चुका है लेकिन अभी तक अपने गन्तव्य स्थान पर नहीं पहुंच पाए हैं।

दिल्ली को नोएड़ा से जोड़ने वाले डीएनडी फ्लाईवे पर दोपहर 12 बजकर करीब 30 मिनट पर वरिष्ठ अधिकारियों सहित भारी संख्या में पुलिस कर्मी तैनात थे। गौतमबुद्ध नगर जिले में धारा-144 के तहत निषेधाज्ञा लागू है।

एक स्थानीय पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘ सीमा सील नहीं की गई है लेकिन दिल्ली-नोएडा सीमा पर जांच बढ़ा दी गई है।’’

hathras case-DND toll plaza
डीएनडी पर राहुल और प्रियंका गांधी के काफिले को रोकने के लिए खड़ी पुलिस(फोटो: सोशल मीडिया)

 

यह भी पढ़ें…आम आदमी को राहत: केंद्र सरकार ने दिया ये तोहफा, अब नहीं होगी बेरोजगारी

हाथरस कांड में डीएम पर उठे सवाल

मीडिया से बातचीत में पीड़िता की भाभी ने बताया ‘कल यहां कोई एसआईटी की टीम नहीं आई थी। परसों पूछताछ हुई थी। डीएम साहब बोलते थे कि तुम्हारी बेटी अगर कोरोना से मर जाती तो क्या कर लेते। तब क्या मुआवजा मिलता।’ ये लोग हमारे परिवार पर नजर रखें हुए हैं।

पीड़िता की भाभी का आरोप है कि यहां के डीएम से जब हमने शव दिखाने की बात कही तो उन्होंने कहा था कि आपको पता है पोस्टमॉर्टम के बाद डेड बॉडी का क्या हाल हो जाता है, हथौड़े से मारकर हड्डियां तोड़ दी जाती है।

पोस्टमॉर्टम की वजह से बॉडी देखने लायक नहीं बचती है। तुम लोग नहीं देख पाओगे। दस दिन तक खाना नहीं खा पाओगे। तुम लोगों को नींद नहीं आयेगी।’

यह भी पढ़ें…बॉलीवुड में बड़ा खुलासा: सामने आया कास्टिंग काउच का सच, हिल गए सभी

Hathras
बेटी के साथ हुई दरिंदगी के बारे में मीडिया को जानकारी देते परिजनों की फोटो(सोशल मीडिया)

पुलिस ने किसकी लाश जलाई, हमें नहीं पता

आगे पीड़िता की भाभी का ये भी कहना है कि हम सच बोल रहे हैं, हम नार्को टेस्ट नहीं कराएंगे। डीएम और एसपी दोनों का नार्को टेस्ट होना चाहिए। वे लोग झूठ बोल रहे हैं।

पुलिस से पूछिए किसने लाश जलाई। हमने तो अपनी आंखों से लाश को जलते हुए भी नहीं देखा। हमें नहीं मालूम किसका दाह संस्कार हुआ था। पीड़िता की भाभी ने भी कहा, ‘जब पीड़िता खुद बोल रही है कि उसके साथ रेप हुआ तो वह झूठ कैसे हो सकता है।’

यह भी पढ़ें…बॉलीवुड में बड़ा खुलासा: सामने आया कास्टिंग काउच का सच, हिल गए सभी

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें – Newstrack App

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App