×

Hathras: गैस लीक होने से लगी आग, मौके पर मची अफरा तफरी, तीन झुलसे

Hathras News: हाथरस में एक दूध की डेयरी में भीषण आग लग गई, जिसकी वजह गैस लीक होना बताया जा रहा है।

Network
Published on 13 May 2022 1:13 PM GMT
Hathras: गैस लीक होने से लगी आग, मौके पर मची अफरा तफरी, तीन झुलसे
X

डेयरी में लगी आग (फोटो- न्यूजट्रैक)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Hathras Fire News: उत्तर प्रदेश के हाथरस शहर (Hathras) के बीचों-बीच कोतवाली सदर इलाके (Kotwali Sadar Area) के नयागंज (Nayaganj) स्थित सादाबादियान दूध डेयरी के ऊपरी मंजिल दूध गर्म हो रहा था। इसी दौरान गैस लीक होने की वजह से आग लग गई। आग लगने की सूचना आनन फानन में फायर ब्रिगेड को दी गई, जिसके बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने स्थानीय लोगों की मदद से समय रहते आग पर काबू पाया, नहीं तो कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था। हालांकि आग लगने की वजह से तीन लोग झुलस गए हैं, जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

क्या है पूरी घटना?

घटना के संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक, अलीगढ़ रोड स्थित साकेत कॉलोनी निवासी ललित अग्रवाल पुत्र रमेशचंद्र की शहर के नयागंज में सादाबादियान के नाम से डेयरी है। यहां पर पनीर, रबड़ी आदि बनाया जाता है। डेयरी पर गिजरौली निवासी देवेंद्र पुत्र रामचंद्र और कुंडा निवासी कांती प्रसाद पुत्र रामबहादुर काम करते हैं। शुक्रवार की दोपहर को डेयरी की ऊपरी मंजिल में दूध गैस चूल्हे पर दूध गर्म हो रहा था। यहां पर तीन चार भट्टियां चल रहीं थी। इसी बीच गैस सिलेंडर की पाइप से किसी तरह से गैस लीक हो गई और फिर उसे में आग लग गई। यह देख मौके पर मौजूद लोग घबरा गए।

देखते ही देखते आग ने बिकराल रूप धारण कर दिया। जिसे लेकर मौके पर अफरा-तफरी मच गई। लोग आग पर काबू पाने का प्रयास करने लगे। इसी बीच आग में फंसे कांतीप्रसाद व देवेंद्र खिड़की से नीचे कूद गए, लेकिन वह दोनों और ललित अग्रवाल बुरी तरह से झुलस गए। सूचना मिलते ही यहां पर फायर ब्रिगेड कर्मी पहुंच गए, जिन्होंने काफी कड़ी मशक्त के बाद आग पर काबू पाया। वहीं आग में झुलसे तीनों लोगों को 108 एम्बुुलेंस से जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां पर उनका उपचार जारी है।

डेयरी में नहीं था आग बुझाने का प्रबंध

बीच बाजार में इतने बड़े स्तर पर डेयरी चल रही है। जहां पर हर रोज दूध गर्म होता है, लेकिन जहां पर यह कार्य होता है, वहां पर आग बुझाने संबंधी किसी भी प्रकार का कोई उपकरण नहीं था। अगर यहां पर आग बुझाने का साधन होता तो शायद यह तीनों इतने बुरी तरह से नहीं झुलसते।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story