Agra News: कोर्ट रूम के बाहर से हेड कांस्टेबल पर हमला, दुर्दांत अपराधी को छुड़ा ले गए उसके साथी

Agra News: विनय श्रोतिया जैसे ही कोर्ट रूम के बाहर निकला, पहले से घात लगाए बैठे साथियों ने हेड कॉन्स्टेबल अभय प्रताप सिंह के सिर पर ईट से प्रहार किया और अपराधी को छुड़ा ले गए ।

Rahul Singh
Published on: 13 July 2022 12:49 PM GMT
Agra News: Head constable attacked from outside the courtroom, his accomplices took away the ill-fated criminal
X

आगरा : आरोपी विनय श्रोतिया

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Agra News: उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) के हेड कांस्टेबल अभय प्रताप सिंह (Head Constable Abhay Pratap Singh) के सिर में एक गुम्मा मारा जाता है। अभय प्रताप सिंह लहूलुहान हो जाते हैं। उनके सिर से खून निकल कर वर्दी पर टपकने लगता है और जिस खूंखार और दुर्दांत अपराधी को उन्होंने पकड़ रखा था। वह हाथ छुड़ाकर अपने साथियों के साथ भाग जाता है। यह वाकया न्यू आगरा थाना क्षेत्र (New Agra Police Station Area) की दीवानी कचहरी में दर्जनों लोगों के बीच उस समय हुआ जब सूरज की रोशनी सिर पर थी।

पुलिस के तमाम सिपाही और अधिकारी वकील और आम आदमी किसी की समझ में नहीं आया कि पलक झपकते यह क्या हुआ है? जब तक लोग समझ पाते आगरा जोन में खौफ और आतंक का पर्याय विनय श्रोतिया उर्फ विनय शर्मा अपने साथियों के साथ रफूचक्कर हो चुका था। विनय श्रोतिया आगरा जिला जेल में बंद था। उसे आज यानी बुधवार को अदालत में पेशी के लिए हेड कांस्टेबल अभय प्रताप सिंह अपनी अभिरक्षा में मुकदमे की तारीख पर दीवानी कचहरी आए थे लेकिन गैंगस्टर के आरोपी विनय श्रोतिया को उसके साथी पुलिस अभिरक्षा से दिनदहाड़े छुड़ा ले गए । फिरोजाबाद के रहने वाले विनय श्रोतिया के खिलाफ 30 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं ।

विनय श्रोतिया के खिलाफ लूट और डकैती के 21 मुकदमे दर्ज

विनय श्रोतिया के खिलाफ जनपद फिरोजाबाद में लूट और डकैती के 21 मुकदमे दर्ज हैं । एटा जनपद में एक मुकदमा दर्ज है । आगरा जनपद में अपराधी विनय श्रोतिया के खिलाफ 8 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं । आगरा पुलिस ने अपराधी विनय श्रोतिया के गैंग को लिस्टेड कर रखा है । विनय श्रोतिया हार्ड कोर क्रिमिनल है । विनय के खिलाफ लूट और डकैती के एक दर्जन से ज्यादा मुकदमे दर्ज है । विनय के खिलाफ हत्या के प्रयास और आर्म्स एक्ट के भी मुकदमा दर्ज है । अपराधी विनय श्रोतिया आगरा की जिला जेल में बंद था । सुबह विनय श्रोतिया को पेशी पर दीवानी न्यायालय लाया गया था ।

हेड कॉन्स्टेबल के सिर पर ईट से प्रहार कर अपराधी को छुड़ा ले गए

विनय श्रोतिया के साथ हेड कांस्टेबल अभय प्रताप सिंह मौजूद था । विनय श्रोतिया जैसे ही कोर्ट रूम के बाहर निकला । पहले से घात लगाए बैठे उसके तीन चार साथियों ने हेड कॉन्स्टेबल अभय प्रताप सिंह के सिर पर ईट से प्रहार किया और दुर्दांत अपराधी को छुड़ा ले गए । यह सब कुछ इतना तेजी से हुआ कि कोई भांप तक नहीं पाया ।

स्पेशल टीमों को बदमाश की गिरफ्तारी के लिए लगाया गया

दीवानी न्यायालय परिसर से कैदी के भागने की सूचना मिलते ही जिले के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए । घटना के एक चश्मदीद से पुलिस टीम ने काफी देर तक पूछताछ की । दीवानी न्यायालय परिसर में पुलिस ने चश्मदीद के साथ क्राइम सीन को रीक्रिएट किया । एसएसपी आगरा प्रभाकर चौधरी का कहना है कि बदमाश की तलाश में रेंज स्कीम लागू कर चेकिंग की जा रही है । स्पेशल टीमों को बदमाश की गिरफ्तारी के लिए लगा दिया गया है । आगरा और आसपास के जनपदों में भी संपर्क कर बदमाश की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं ।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story