Top

टीजीटी-पीजीटी इम्तिहान में धांधली पर HC सख्त, दिए जांच के आदेश

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 16 May 2016 11:00 PM GMT

टीजीटी-पीजीटी इम्तिहान में धांधली पर HC सख्त, दिए जांच के आदेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच टीजीटी और पीजीटी इम्तिहान में कथित तौर पर धांधली की शिकायत पर सख्त रुख अपनाया है। कोर्ट ने माध्यमिक शिक्षा चयन बोर्ड को इस बारे में जांच करके तीन हफ्ते में रिपोर्ट देने को कहा है। कोर्ट ने कहा कि अगर आरोप पहली नजर में सही हैं, तो परीक्षा की मूल्यांकन प्रणाली सवालों के घेरे में आती है।

अदालत ने क्या दिया आदेश?

-जस्टिस एपी साही और जस्टिस एआर मसूदी की बेंच ने आजमगढ़ के संजय कुमार की अर्जी पर दिया निर्देश।

-अर्जी में कहा गया है कि टीजीटी और पीजीटी परीक्षा की कॉपियां जांचने का ठेका निजी कंपनी को मिला है।

-अभ्यर्थियों से सेटिंग कर कंपनी उन्हें इम्तिहान में पास कर रही है।

-सादी कॉपी जमा कराकर बाद में सही जवाब भर दिए जाते हैं।

किस तरह हो रहा फर्जीवाड़ा?

-अर्जी में कहा गया है कि उत्तर पुस्तिका के तीन सेट होते हैं।

-एक अभ्यर्थी के पास, दूसरी बोर्ड और तीसरी पुस्तिका कंपनी को भेजी जाती है।

-ऐसी कॉपियां मिलने का दावा किया गया है, जिनमें बोर्ड की कॉपी सादी और कंपनी की कॉपी में जवाब लिखे थे।

-इसी के मद्देनजर अर्जी में जांच के लिए आदेश का आग्रह किया गया था।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story