×

हो जाइए खुश: अब कर पाएंगे इन सुंदर इमारतों का दीदार, हुआ ऐलान

मोहब्बत की निशानी के तौर पर दुनिया भर में मशहूर आगारा का ताजमहल हो या अपनी पेंचीदे मोड़ों के लिए मशहूर लखनऊ की भूल-भुलैया कोरोना वायरस संक्रमण के कारण सभी पुरातात्विक महत्व की इमारते जो आर्कियोलाजिकल सर्वे आफ इंडिया के संरक्षण में है लम्बे समय से बंद थी।

Newstrack
Updated on: 3 July 2020 9:21 AM GMT
हो जाइए खुश: अब कर पाएंगे इन सुंदर इमारतों का दीदार, हुआ ऐलान
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: मोहब्बत की निशानी के तौर पर दुनिया भर में मशहूर आगारा का ताजमहल हो या अपनी पेंचीदे मोड़ों के लिए मशहूर लखनऊ की भूल-भुलैया कोरोना वायरस संक्रमण के कारण सभी पुरातात्विक महत्व की इमारते जो आर्कियोलाजिकल सर्वे आफ इंडिया के संरक्षण में है लम्बे समय से बंद थी। लेकिन अब आगामी छह जुलाई से आप फिर से ताजमहल का दीदार कर सकेंगे और जी भर के भूलभुलैया की पेंचीदा मोड़ों में भटक सकेंगे।

ये भी पढ़ें:सावधान नौकरी वालों: जान लें क्या होता हैं फॉर्म -16, आपके लिए बेहद जरूरी

केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने कहा

केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने कहा है कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्वारा संरक्षित सभी स्मारक छह जुलाई से आम जनता के लिए फिर से खोल दिए जायेंगे और अब अगर यूपी सरकार ने इजाजत दे दी तो यह एतिहासिक स्थल दर्शकों के लिए खोल दिए जायेंगे।

छह जुलाई से फिर से खुलेंगे स्मारक

प्रह्लाद पटेल ने ट्वीट करके कहा है कि मैंने संस्कृति मंत्रालय और एएसआई के साथ मिलकर सभी स्मारकों को छह जुलाई से फिर से खोलने का निर्णय लिया है। हालांकि राज्य और जिला प्रशासन की अनुमति से ही ऐसा किया जाएगा। संस्कृति मंत्री ने कहा है कि इमारतों को खोले जाने के बाद यहां आने वाले सभी पर्यटकों से कोरोना प्रोटोकाल का पालन करवाया जायेगा। इसके साथ ही स्मारक के अधिकारी भी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी कोरोना वायरस से संबंधित सभी प्रोटोकॉल का पालन करेंगे। ऐसे में इन एतिहासिक स्थलों पर पर्यटकों के लिए मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का नियम बनाया जा सकता है।

ये भी पढ़ें:पुलिस से कांपे अपराधी: हाथ लगी बड़ी कामयाबी, 3 घंटे में पकड़ा दुष्कर्म का आरोपी

आपको बता दे कि कोरोना वायरस संकट के मद्देनजर बीती 17 मार्च से केंद्र सरकार द्वारा संरक्षित 3,691 स्मारक और पुरातत्व स्थल बंद दिए गए थे। इनकी देखभाल एएसआई करता है। इससे पहले बीते जून माह में संस्कृति मंत्रालय ने एएसआई के रखरखाव वाले 3,000 से अधिक स्मारकों में से 820 ऐसे स्मारकों को खोल दिया था जहां धार्मिक समारोह होते हैं।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story