Top

गृहमंत्री ने कहा-सरकारी खजाना कुबेर का होता है, बस नीयत साफ होनी चाहिए

Admin

AdminBy Admin

Published on 3 April 2016 11:25 AM GMT

गृहमंत्री ने कहा-सरकारी खजाना कुबेर का होता है, बस नीयत साफ होनी चाहिए
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह रविवार को यूपी सरकार पर जम कर बसरे और कहा कि सरकार का खजाना कुबेर का होता है बस नीयत साफ होनी चाहिए। झूलेलाल पार्क में आयोजित अधिकार दिलाओ रैली में उन्होंने कहा कि वे भी यूपी के सीएम रह चुके हैं। उन्हें पता है कि सरकार के पास कितनी रकम हुआ करती है।

बस उसे सही जगह और सही समय पर खर्च करने की नीयत होनी चाहिए। इसलिए यूपी की सपा सरकार केन्द्र से कुछ नहीं मिलने का राग अलापना बंद करे। वैसे वे इस मामले में यूपी सरकार से बात करेंगे। राज्य सरकारें केन्द्र से मदद नहीं मिलने का उलाहना बंद करें।

और क्या कहा गृहमंत्री ने

-राजनाथ ने कहा कि केंद्र से राज्यों को भेजे जाने वाले राजस्व का अंश पहले 32 फीसदी था।

-अब उसे बढ़ाकर 42 प्रतिशत कर दिया गया है।

-राज्यों को दिए जाने वाले धन में एकाएक 10 फीसदी की बढोत्तरी की गई है।

-यूपी को पहले की तुलना में 27 हजार करोड़ ज्यादा मिल रहे हैं।

-इसलिए अब राज्य को पैसे की कमी को लेकर रोने-धोने का सिलसिला बंद करना चाहिए।

-अधिकार दिलाओ रैली में राज्य कर्मचारी का दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर प्रदेश भर से संविदा कर्मी एकत्रित हुए थे।

-राज्यों को जितना मोदी सरकार ने दिया, उतना किसी ने नहीं दिया।

-राजनाथ सिंह ने कहा कि इस बार मोदी सरकार ने राज्यों को जितना धन दिया है।

-देश के आजाद होने के बाद से अब तक किसी भी केंद्र सरकार ने इतना पैसा नहीं दिया है।

पसीना बहाने वाला बड़ा होता है

गृह मंत्री ने कहा कि अगर मुझसे पूछा जाए कि पैसा और पसीना बहाने वाले में से कौन बड़ा होता है तो मैं कहूंगा कि जो लोग पसीना बहाते हैं, वह बड़े हैं। उन्होंनें दावा किया कि जनता की आंखों में धूल झोंक कर कभी राजनीति नहीं की। जो लोग गरीबों की इज्जत नहीं करते, उन्हें सत्ता में बने रहने का हक नहीं है ।

Admin

Admin

Next Story