×

योगी जी! जमीन कब्जा मुक्त कराने के लिए 6 दिन से भूख हड़ताल पर है ये परिवार

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 24 Sep 2017 1:45 PM GMT

योगी जी! जमीन कब्जा मुक्त कराने के लिए 6 दिन से भूख हड़ताल पर है ये परिवार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

एटा: यूपी में सरकार की तरफ से दावे तो बड़े किए जाते हैं। लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही सामने आती है इनकी। भू-माफिया से निपटने के लिए टास्क फोर्स का हल्ला तो खूब मचा। लेकिन ये फोर्स कहां काम कर रही है, कैसे काम कर रही है किसी को नहीं पता। दबंग भू माफिया बेलौस अंदाज में कब्जे कर रहे हैं और पीड़ित की कोई सुनता भी नहीं। ताजा मामल है एटा का यहां एक पीड़ित ने डीएम को शिकायत कर अपनी जमीन से अवैध कब्ज़ा हटाने की प्रर्थना की लेकिन प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं हुई तो पीड़ित परिवार कलक्ट्रेट पर भूख हड़ताल पर बैठ गया। 6 दिन हो गए लेकिन किसी ने उनसे मिलने की जरुरत नहीं समझी।

ये भी देखें: हिमाचल को मिलेगी AIIMS की सौगात, 3 अक्टूबर को मोदी रखेंगे आधारशिला

क्या है मामला

कलक्ट्रेट स्थित धरना स्थल पर संजीव कुमार अपने परिवार के साथ भूख हड़ताल पर बैठे हैं, संजीव ने कहते हैं कि सदर तहसील के मिरहची गांव में गाटा संख्या 26 में वर्णित जमीन के एक बड़े हिस्से के वो मालिक हैं। इस जमीन पर कादरपुर के मातादीन यादव व विजय यादव ने फर्जी बैनामे कर कब्जा कर लिया हमने डीएम अमित किशोर से शिकायत की। डीएम ने एसडीएम को कार्यवाही के आदेश दिए लेकिन कार्यवाही नहीं हुई।

ये भी देखें: सुषमा के वार से बिगड़ा मलीहा का मानसिक संतुलन, इस तस्वीर में छुपा है राज

6 दिन से चल रही है हड़ताल

6 दिन बीत जाने के बाद भी संजीव भूख हडताल पर है उसे शनिवार रात लगभग नौ बजे एटा कोतवाली नगर प्रभारी पंकज मिश्रा मय पुलिस बल के साथ जबरन धरना स्थल से उठा लाए और जिला चिकित्सालय में भर्ती करा दिया। जिला चिकित्सालय के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती संजीव नें बताया, कि मैं न्याय न मिलने पर भूख हड़ताल पर रहूंगा। अगर मुझे इस गूंगे, बहरे व अंधे प्रशासन से न्याय नही मिला तो मै पूरे परिवार के साथ आत्मदाह कर लूंगा जिसकी जिम्मेदारी जिला प्रशासन एटा की होगी।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story