Top

बेटी से देह व्यापार कराना चाहती थी मां, पति ने गला काटकर की हत्या

Admin

AdminBy Admin

Published on 18 March 2016 11:17 AM GMT

बेटी से देह व्यापार कराना चाहती थी मां, पति ने गला काटकर की हत्या
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बुलंदशहरः सलेमपुर पुलिस को तीन दिन पहले मिली महिला की सिरकटी लाश का मामला पूरी तरह से सुलझ गया है। पुलिस ने मृत महिला की पहचान अनीता के रूप में की है जिसकी हत्या उसके पति और दो भांजों ने की थी। पुलिस ने हत्यारोपी पति और दोनों भांजों को गिरफ्तार कर लिया है।

बताया जा रहा है कि अनीता पैसे कमाने की लालच में अपनी ही बेटी को वेश्यावृत्ति के धंधे में उतारना चाहती थी। इस बात की जानकारी जब उसके पति को हुई तो उसने अपने दो भांजों के साथ मिलकर उसका सिर काटकर हत्या कर दी। अनीता भी वेश्यावृत्ति का काम ही करती थी।

‘लाश मिलने के बाद से थी लोगों में थी दहशत’

-एसएसपी पीयूष श्रीवास्तव ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि क्षेत्र में महिला की सिरकटी लाश मिलने के बाद से क्षेत्र में दहशत थी।

-लाश के पास मिले मोबाइल से अनीता की पहचान हो सकी।

-बिहार के भागलपुर में रहने वाली अनवरी की शादी 17 साल पहले बुलंदशहर के तेजपाल से हुई थी।

-शादी के बाद अनवरी अनीता बन गई थी।

‘अनवरी और तेजपाल के थे चार बच्चे’

-अनवरी और तेजपाल के चार बच्चे थे।

-तेजपाल मजदूरी कर अपने परिवार का पालन पोषण करता था

-लेकिन ज्यादा पैसे की चाहत में अनवरी ने देह व्यापार का धंधा अपना लिया।

-तेजपाल ने कई बार अनवरी को रंगे हाथों भी पकड़ा लेकिन उसने अपना रास्ता नहीं बदला।

-आखिरकार, तेजपाल ने भी गलत रास्ता अख्तियार कर लिया।

क्या कहना है आरोपी तेजपाल का

-उसकी पत्नी अनवरी उर्फ अनीता वैश्यावृति का धंधा करती थी।

-वह कई बार गाजियाबाद, दिल्ली के होटलों में कई बार अरेस्ट भी हुई थी।

-तेजपाल के कई बार समझाने के बाद भी अनीता अपनी हरकतों से बाज नही आई।

-अनीता उर्फ अनवरी उसकी 13 साल की लड़की को 10 हजार रूपए में बेचना चाहती थी।

रिकॉर्डिंग से हुआ खुलासा

-तेजपाल ने बताया कि अनवरी के फोन में हुई रिकॉर्डिग से पता चला कि वह 13 साल की बेटी को भी वैश्यावृत्ति के धंधे में धकेलना चाहती है।

-उसने जब अनवरी से इस बात का विरोध किया तो अनवरी ने उसकी बात की परवाह किये बगैर बेटी पर अपना हक जताया।

-उसने अपने बेटी की जिंदगी बर्बाद होने से बचाने के लिए भांजों की मदद से अनवरी को बुलंदशहर बुलाया और एक बाग में ले जाकर उसकी हत्या कर दी।

-हत्या के बाद उसने अनवरी का सिर धड़ से अलग किया और उसे नाले में फेंक दिया।

Admin

Admin

Next Story