×

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में भाजपा व अपना दल का खुल कर सामने आया आपसी कलह

आज सामूहिक विवाह कार्यक्रम में आज 294 जोड़ो को आशीर्वाद दिया गया। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना नगर के राजकीय इंटर कॉलेज में सामूहिक विवाह का आयोजन समाज कल्याण विभाग द्वारा किया गया था।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 9 Feb 2019 4:13 PM GMT

सामूहिक विवाह कार्यक्रम में भाजपा व अपना दल का खुल कर सामने आया आपसी कलह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मिर्जापुर: आज सामूहिक विवाह कार्यक्रम में आज 294 जोड़ो को आशीर्वाद दिया गया। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना नगर के राजकीय इंटर कॉलेज में सामूहिक विवाह का आयोजन समाज कल्याण विभाग द्वारा किया गया था। इस कार्यक्रम की मुख्य अतिथि अनुप्रिया पटेल ने आकर 294 जोड़ों को आशीर्वाद प्रदान किया। जिसमें मिर्जापुर के जिला अधिकारी अनुराग पटेल सीडीओ प्रियंका निरंजन समेत विभिन्न आला अधिकारी मौके पर मौजूद रहे नव दंपति को उपहार स्वरूप गृहस्थ से संबंधित सामान भेट किया गया।

चर्चा है कहि गठबंधन खतरे में तो नही :भारतीय जनता पार्टी के कोई भी प्रतिनिधि नही पहुचे कार्यक्रम में ,मंच साझा करने से कतराते नजर आए भाजपा नेता , 294 सामूहिक शादी का आयोजन बृहद रूप से जनपद के सभी अधिकारियों द्वारा किया गया था। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में अनुप्रिया पटेल थी मंच पर अपना दल के कार्यकर्ताओं के साथ बीजेपी के कोई प्रतिनिधि अपना मंच साझा करने से बचते नजर आए। कोई बीजेपी विधायक इस कार्यक्रम में नहीं पहुंचा जिससे चर्चा बनी हुई है कहीं गठबंधन धर्म खतरे में तो नहीं है।

माना जा रहा था कि मामला शांत हो गया है पर एक बार फिर आज गठबंधन की खटास देख कर ऐसा लग रहा है बीजेपी के पिछड़े वर्ग के बड़े नेता के चलते दोनों दलों के बीच विवाद सुलझने के बजाय उड़ता जा रहा है अब यह देखना होगा कि बीजेपी यूपी 2014 लोकसभा चुनाव के यूपी में अपने एकमात्र सहयोगी को मना पाती है या फिर यह विवाद सुलझने के बजाय उलझता है अगर ऐसा हुआ तो दोनों दल चुनावी समर में आमने सामने भी हो सकते हैं।

बीते 25 दिसंबर को वाराणसी और गाजीपुर दौरे के ठीक पहले अपना दल एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष पटेल ने बीजेपी से नाराजगी जाहिर कर कर अपने लिए 2019 में सम्मानजनक सीट ना मिलने पर गठबंधन से हटने तक की धमकी दी थी पीएम मोदी के कार्यक्रम में ना बुलाया जाने पर भी नाराजगी जताई थी इसके बाद से बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष से लेकर रेल मंत्री तक ने इसे घर की बात करते हुए मामले को सुलझा लिए जाने की बात कही थी पर इसके बाद अनुप्रिया पटेल ने एक बार फिर या का कर नाराजगी बने होने का संकेत दिया था कि उन्हें मनाने के लिए कोई आया ही नहीं बीजेपी के नेता फिर से आपस का मसला बता रहे थे लेकिन आज गठबंधन की नाराजगी खुलकर सामने मंच पर दिखाई दिया।

ये भी पढ़ें...मिर्जापुर में विकास के क्रम को आगे बढ़ाने के लिए फिर से जनता के बीच आए हैं पीएम मोदी

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story