Top

जय हो ! यूपी के इन आईएएस अधिकारियों के घर IT की छापेमारी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 24 May 2017 4:30 PM GMT

जय हो ! यूपी के इन आईएएस अधिकारियों के घर IT की छापेमारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में बुधवार को आयकर विभाग ने एक के बाद एक 6 शहरों में 15 जगहों पर तीन आईएएस सहित चार अधिकारियों के यहां ताबड़तोड़ छापा मारा है। आयकर विभाग ने दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, लखनऊ, बागपत, मैनपुरी समेत कई शहरों के अधिकारियों के ठिकानों पर छापे मारे हैं। कार्रवाई में उप्र के दो आईएएस अधिकारियों, एक पीसीएस अधिकारी और पांच सरकारी बाबुओं के खिलाफ आयकर विभाग ने छापेमारी कर रही है।

ये भी देखें : 21 साल पुराने अलकतरा घोटाले में राजद नेता सहित 5 साक्ष्यों के अभाव में बरी

ये छापेमारी अधिकारियों द्वारा आय छुपाने को लेकर की गयी है। आयकर की ये कार्रवाई बेहद गुप्त रूप से की गई। इस कार्रवाई की किसी को भनक तक नहीं लगी।

मिली जानकारी के मुताबिक, सुबह करीब 8:25 बजे गाजियाबाद, एटा, आगरा और मैनपुरी की आयकर विभाग की टीमों के लगभग 24 अधिकारियों ने संयुक्त रूप से आईएएस विमल कुमार शर्मा के भोगांव के छोटा बाजार स्थित आवास पर पहुंचकर छापा मारा। जिस समय ये अधिकारी पहुंचे उस समय घर पर विमल कुमार शर्मा के भाई डा. वीके शर्मा तथा शरद शर्मा मौजूद थे।

इस दौरान उनसे मिलने आए भाजपा के पूर्व नगर अध्यक्ष राजेंद्र सोनी को भी आयकर विभाग की टीम ने बाहर जाने से रोक दिया। ये कार्रवाई दोपहर 12 बजे तक जारी रही। कार्रवाई के दौरान आयकर विभाग की टीम के अधिकारियों ने न तो घर से किसी को बाहर जाने दिया और न ही किसी को बाहर से अंदर आने दिया। कार्रवाई को लेकर किसी भी अधिकारी ने कोई बयान नहीं दिया।

विमल फीरोजाबाद व गाजियाबाद जिलों में डीएम पद पर रह चुके हैं और उनकी पत्नी भी मेरठ में एआरटीओ के पद पर तैनात हैं। वहीं दूसरी तरफ एक और आईएएस अधिकारी के यहां छापेमारी की गई है।

आयकर विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग ने आईएएस सत्येन्द्र सिंह के लखनऊ स्थित घर पर दबिश दी है। इसके अलावा ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के कई पूर्व अधिकारियों के घर पर भी छापेमारी जारी है। खबर है कि आईएएस अफसर हृदय नारायण तिवारी के घर छापे मारे गए हैं। हृदय नारायण तिवारी स्वास्थ्य विभाग में निदेशक हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story