×

Lucknow University: अमृत महोत्सव के रंग में मनेगा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस, 7500 छात्र करेंगे योगा

Lucknow University: हर वर्ष 21 जून को मनाये जाने वाले "अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस" को लखनऊ विश्वविद्यालय इस बार भारत सरकार द्वारा आयोजित अमृत महोत्सव के परिपेक्ष्य में मनाएगा।

Shashwat Mishra
Published on 15 May 2022 10:31 AM GMT
International Yoga Day will be celebrated in the colors of Amrit Mahotsav, 7500 students will do yoga
X

लखनऊ विश्वविद्यालय अमृत महोत्सव के रंग में मनाएगा अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस: Photo - Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow: हर वर्ष 21 जून को मनाये जाने वाले "अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस" (International Yoga Day) को लखनऊ विश्वविद्यालय (Lucknow University) इस बार भारत सरकार द्वारा आयोजित अमृत महोत्सव (Amrit Mahotsav) के परिपेक्ष्य में मनाएगा। 'आजादी का अमृत महोत्सव' भारत सरकार की आजादी के 75 साल और इसके लोगों, संस्कृति और उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास को मनाने के लिए एक पहल है। आज़ादी का अमृत महोत्सव की शुरुआत 12 मार्च, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने वर्ष भर चलने वाले कार्यक्रम के रूप में क़ी थी, जिसमे हमारी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के लिए 75-सप्ताह तक चलने वाले कार्यक्रम 15 अगस्त, 2023 तक चलेंगे।

7500 छात्र करेंगे योगा

लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो आलोक कुमार राय (Lucknow University Vice Chancellor Prof Alok Kumar Rai) ने बताया कि लखनऊ विश्वविद्यालय इस बार 21 जून को मनाये जाने वाले "अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस" पर एक साथ 7500 छात्रों के योग कार्यक्रम का आयोजन करके आज़ादी के अमृत महोत्सव और अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस को एक साथ मनाएगा। इसमें विश्वविद्यालय से सम्बद्ध महाविद्यालय के छात्रों की भागीदारी भी होगी। इसमें लखनऊ, रायबरेली, सीतापुर, खीरी-लखीमपुर और हरदोई के महाविद्यालय सम्मिलित होंगे।

योग से मिलता है शारिरिक व मानसिक लाभ

कुलपति ने बताया कि योग हमारी भारतीय जीवन शैली का एक अहम हिस्सा है और छात्रों को विशेष रूप से इससे एकाग्र होकर, अपने मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को सुदृढ़ कर शिक्षा एवं जीवन के अन्य आयामों में अनेक लाभ मिलते हैं।

"कर्मोदय'' के छात्रों का ओरिएंटेशन कार्यक्रम हुआ संपन्न

कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार राय ने छात्र केंद्रित "कर्मोदय" योजना के तहत चुने गए 40 छात्रों को ओरिएंटेशन कार्यक्रम में संबोधित किया। कुलपति प्रो आलोक कुमार राय ने छात्रों को इस अवसर का अधिकतम लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया, जिससे वे अपनी कार्य दक्षता को और अधिक सुदृढ़ बना सकें।

40 छात्रों का चयन

इस मौके पर छात्र कल्याण की अधिष्ठाता प्रो पूनम टंडन ने बताया कि कर्मयोगी योजना में छात्रों के उत्साहपूर्ण भागीदारी को देखते हुए लखनऊ विश्वविद्यालय कुलपति प्रो आलोक कुमार राय ने कर्मोदय योजना की शुरुआत की है । इसके लिए 97 छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया था, जिनमे योग्यता के आधार पर 40 छात्रों का चयन किया गया है।

रोज़ाना दो घण्टे करना होगा काम

अतिरिक्त अधिष्ठाता छात्र कल्याण डा अलका मिश्रा और डा अमृतांशु शुक्ल ने ओरिएंटेशन कार्यक्रम में आए सभी छात्रों को उनके कार्य क्षेत्र के आवंटन के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि इन छात्रों को विश्वविद्यालय में पढ़ाई के साथ-साथ विभिन्न विभागों, विभिन्न विभागों के कार्यालय, पुस्तकालय और प्रयोगशालाओं आदि में काम करने का अवसर मिलेगा। इसके लिए उन्हें प्रतिदिन 2 घंटा कार्य करना होगा।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story