‘जय श्री राम’ कहा इस भाजपा हिंदू नेता ने, फैसले पर दिया बड़ा बयान

अयोध्या रामजन्म-भूमि और बाबरी मस्जिद पर ऐतिहासिक फैसला आ चुका है। कोर्ट ने ये फैसला राम लला के पक्ष में सुनाया है। साथ ही ट्विटर पर डॉ. सुब्रह्मण्यम स्वामी जोकि भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता माने जाते है। इन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर लिखा हैं- जय श्री राम। 

नई दिल्ली : अयोध्या रामजन्म-भूमि और बाबरी मस्जिद पर ऐतिहासिक फैसला आ चुका है। कोर्ट ने ये फैसला राम लला के पक्ष में सुनाया है। सारे विवादित तथ्यों का साफ व्याख्यान देने के बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया है। इस फैसले के बाद अब विवादित स्थल पर ही मंदिर बनेगा। ऐसे में सोशल मीडिया पर देश की कई बड़ी-बड़ी हस्तियों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। ऐसे में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह ने भी अपना विचार व्यक्त किए हैं। साथ ही ट्विटर पर डॉ. सुब्रह्मण्यम स्वामी जोकि भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता माने जाते है। इन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर लिखा हैं- जय श्री राम।

ये भी देखें… ये हैं अयोध्या में खास! क्या आप जानते हैं इनकी मान्यताओं के बारे में

डॉ॰ सुब्रह्मण्यम् स्वामी का ट्वीट :

डॉ॰ सुब्रह्मण्यम् स्वामी ने अपने ट्विटर अकांउट पर राम मंदिर फैसला आने के बाद प्रतिक्रिया व्यक्त की है। बता दें कि सुब्रह्मण्यम स्वामी जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष रह चुके हैं। वे सांसद के अतिरिक्त 1990-91 में वाणिज्य, विधि एवं न्याय मन्त्री और बाद में अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार आयोग के अध्यक्ष भी रहे।

सुब्रह्मण्यम् स्वामी ने अपने उपरोक्त ट्वीट के बाद ये ट्वीट कर ये लिखा- जीत के इस घंटे में हमें श्री अशोक सिंघल को याद करना चाहिए। नमो सरकार को तुरंत उनके लिए भारत रत्न की घोषणा करनी चाहिए। इनके इस ट्वीट पर ट्विटर यूजर उन्हें काफी ट्रोल कर रहें हैं।

इसके बाद उन्होंने लिखा-  आरएसएस के मानवीय बुनियादी ढांचे के बिना राम आंदोलन इतने लंबे समय तक कायम नहीं रह सकता था।