Top

आ गए इस परिवार के अच्छे दिन, जॉर्डन की जेल से रिहा होगा युवक

Sanjay Bhatnagar

Sanjay BhatnagarBy Sanjay Bhatnagar

Published on 18 Jun 2016 2:50 PM GMT

आ गए इस परिवार के अच्छे दिन, जॉर्डन की जेल से रिहा होगा युवक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फतेहपुर: जिले के ठिठौरा गांव मे आखिर एक परिवार के अच्छे दिन आ गए। परिवार का बेटा लंबे समय से जॉर्डन की जेल में बंद था। केंद्र सरकार की पहल पर युवक ने न सिर्फ अपने परिवार से बात की, बल्वाकि परिवार को युवक की जल्द रिहाई का भरोसा भी मिल गया है।

achchhe din-jailed foreign- release assure परिवार के आए अच्छे दिन

खो चुके थे उम्मीद

-फतेहपुर के ठिठौरा गांव के सज्जन कुमार 2010 में जॉर्डन कमाने गए थे।

-लेकिन सज्जन का न कभी कोई संदेश मिला न कोई पत्र।

-निराश घर वालों ने मान लिया कि शायद उनका बेटा अब इस दुनिया में नहीं है।

-परिवार ने कई बार जार्डेन सरकार से बात करने का प्रयास किया, लेकिन सफलता नहीं मिली।

-परिवार ने उम्मीद खो दी और जैसे तैसे जीवन बसर करता रहा।

achchhe din-jailed foreign- release assure गांव वालों ने जमा होकर मनाई खुशी

-परिवार ने एक दिन बीजेपी के जिला उपाध्यक्ष अरविंद वाजपेई से इस बारे में मदद मांगी।

-अरविंद ने पीएम मोदी को एक पत्र लिख कर प्रदेश उपाध्यक्ष करण सिंह पटेल को सौंप दिया।

achchhe din-jailed foreign- release assure परिवार ने मददगार नेताओं का जताया आभार

स्थानीय नेताओं की पहल

-प्रदेश उपाध्यक्ष ने यह पत्र विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को दिया।

-विदेश मंत्री की पहल पर जॉर्डन सरकार सक्रिय हुई।

-विदेश मंत्रालय के प्रयास पर जार्डेन सरकार ने खुद ठिठौरा गांव में सज्जन कुमार के परिवार से सज्जन की बात करवाई।

-जॉर्डन सरकार और केंद्र सरकार के फोन के बाद परिवार में दीवाली जैसा माहौल है।

-परिवार की खुशी में पूरा गांव शामिल है।

-गांव वालों ने मददगार नेताओं का अभिनंदन कर उनका आभार जताया है।

Sanjay Bhatnagar

Sanjay Bhatnagar

Writer is a bi-lingual journalist with experience of about three decades in print media before switching over to digital media. He is a political commentator and covered many political events in India and abroad.

Next Story