×

Jhansi News: टहरौली के भटपुरा और बरौल से जमकर हो रहा है अवैध बालू खनन, प्रशासन बना मूकदर्शक

Jhansi News: खनन विभाग के अधिकारी सब कुछ जानकर भी अनजान बने रहते हैं। बालू माफिया चतुराई के साथ रात के अंधेरे में बालू का अवैध खनन करते हैं।

B.K Kushwaha
Published on: 19 Feb 2024 12:51 PM GMT
jhansi News
X

झांसी के टहरौली के भटपुरा और बरौल से जमकर हो रहा है अवैध बालू खनन (न्यूजट्रैक)

Jhansi News: टहरौली क्षेत्र में बालू के अवैध खनन का खेल इन दिनों बड़े जोर शोर से फलफूल रहा है। स्थानीय ग्रामीणों द्वारा कई बार इसकी शिकायत टहरौली के स्थानीय प्रशासन को दी लेकिन किसी भी सम्बन्धित अधिकारी के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी। वहीं खनन विभाग के अधिकारी सब कुछ जानकर भी अनजान बने रहते हैं। बालू माफिया चतुराई के साथ रात के अंधेरे में बालू का अवैध खनन करते हैं। सुबह पांच बजे तक बालू के अवैध खनन के काम को अंजाम दिया जाता है, ताकि दिन के उजाले में खनन माफियाओं की काली करतूत लोगों की नजर से बची रहे। पिछले कई दिनों से तो यहाँ सक्रिय खनन माफियाओं के हौसले इतने बुलन्द हैं कि ये दिन के उजाले में भी खनन करने से बाज नहीं आ रहे हैं। क्षेत्रवासियों और ग्रामीणों की मानें तो बालू का अवैध कारोबार कुछ सत्ताधारी नेताओं की सरपरस्ती में भी फल फूल रहा है।

प्रतिदिन बिना रॉयल्टी की अवैध बालू से लदे दर्जनों ट्रैक्टर व ट्रॉलियां एक साथ थाना परिसर, तहसील परिसर एवं नगर के प्रमुख चौराहों से फर्राटा भरते हुये नजर आते हैं। रात भर खाली ट्रॉलियां बार-बार बालू घाटों की ओर जाती हैं और फिर प्रतिबंधित घाटों से बालू भरकर वापस लौटती हैं। अवैध खनन कर बालू ले जाने वाले ट्रैक्टर व ट्रॉलियों की तस्वीरें व वीडियो भी कई बार लगातार सामने आते रहे हैं लेकिन खनिज विभाग, टहरौली तहसील प्रशासन और टहरौली पुलिस द्वारा कोई भी कार्रवाई करने की जहमत तक नहीं उठाई गयी। टहरौली क्षेत्र में सक्रिय बालू माफिया पर्यावरण के साथ खिलवाड़ करके मालामाल हो रहे हैं। वहीं मोटा माल वसूलने में सम्बन्धित अधिकारी भी कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। बालू के अवैध उठान व परिवहन पर टहरौली प्रशासन अंकुश लगाने में पूर्ण रूप से नाकाम है एवं एक तमाशबीन की भूमिका अदा कर रहा है।

सूत्रों द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार टहरौली क्षेत्र के भटपुरा और बरौल में बने अवैध बालू घाटों पर प्रतिदिन 25 से 30 ट्रैक्टर बालू का उठान कर रहे हैं। सूत्रों द्वारा बताया गया है कि बेतवा नदी पर बने भटपुरा और बरौल गांव के अवैध बालू घाटों से बालू उत्खनन का अवैध कारोबार खनन माफियाओं, सत्ताधारी नेताओं व अधिकारियों की मोटी कमाई का जरिया बन चुका है।

इनका कहना है

उपजिलाधिकारी टहरौली अबुल कलाम ने कहा कि टीम गठित करके छापामार कार्यवाही की जाएगी। पकड़े जाने पर उनके खिलाफ कठोरतम कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। किसी भी सूरत में अवैध खनन को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। अवैध खनन में संलिप्त लोगों के खिलाफ वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।

Shishumanjali kharwar

Shishumanjali kharwar

कंटेंट राइटर

मीडिया क्षेत्र में 12 साल से ज्यादा कार्य करने का अनुभव। इस दौरान विभिन्न अखबारों में उप संपादक और एक न्यूज पोर्टल में कंटेंट राइटर के पद पर कार्य किया। वर्तमान में प्रतिष्ठित न्यूज पोर्टल ‘न्यूजट्रैक’ में कंटेंट राइटर के पद पर कार्यरत हूं।

Next Story