×

TRENDING TAGS :

Election Result 2024

Jhansi : 112 गैंगस्टरों की दो अरब से ज्यादा की संपत्ति जब्त, क्रिमिनल्स पर हावी रही झांसी पुलिस

Jhansi News: अपराध के खात्मे और अपराधियों पर शिकंजा कसने में झांसी पुलिस ने बीते वर्ष उल्लेखनीय कार्य किए। गैंगस्टर एक्ट (Gangster Act) में 112 अभियुक्तों की दो अरब 11 करोड़ से अधिक की संपत्ति जब्त की।

B.K Kushwaha
Published on: 3 Jan 2024 2:23 PM GMT
Jhansi Crime Record 2023
X

प्रतीकात्मक चित्र (Social  media) 

Jhansi Crime Record 2023 : वर्ष 2023 में झांसी पुलिस माफियाओं, गैंगस्टरों पर हावी रही। बड़ी संख्या में माफियाओं को जेल में डाला गया। इस दौरान गुलशन यादव और उनकी करीबियों की करोड़ों की संपत्ति पर बुलडोजर चला। तो बड़ी संख्या में प्रॉपर्टी को कुर्क किया गया। पुलिसिया कार्रवाई साल के अंत तक जारी रही। ये हम नहीं, बल्कि झांसी पुलिस का रिकॉर्ड बता रहा है।

फिरौती के लिए एक भी अपहरण नहीं

अपराध के खात्मे और अपराधियों पर शिकंजा कसने में झांसी पुलिस (Jhansi Police) ने बीते वर्ष उल्लेखनीय कार्य किए। गैंगस्टर एक्ट (Gangster Act) में 112 अभियुक्तों की दो अरब 11 करोड़ से अधिक की संपत्ति जब्त की। वहीं, कई इनामियों को सलाखों के पीछे पहुंचाया। नतीजा यह रहा कि साल में फिरौती के लिए अपहरण की एक भी घटना नहीं हुई। जबकि, लूट और डकैती के मामलों में 90 फीसदी तक कमी आई।

रसूख वालों पर भी लगे गैंगस्टर एक्ट

अपराध के खिलाफ योगी आदित्यनाथ सरकार की 'जीरो टॉलरेंस नीति' को अपनाते हुए पुलिस किसी भी अपराधी को बख्शने के मूड में नहीं दिख रही। अपराधी चाहे कितना भी रसूख वाला क्यों न हो, पुलिस ने सभी के खिलाफ गैंगस्टर की धारा- 14(1) का इस्तेमाल किया। जब्तीकरण की कार्रवाई भी की। कहीं पर बुलडोजर चलाकर अवैध कब्जों को मुक्त कराया गया तो कहीं संपत्ति को जब्त कर सरकार ने ताला लगा दिया। झांसी में गैंगस्टर की धारा 14(1) के तहत पुलिस ने अपराधियों पर बड़ी कार्रवाई की है। इसके तहत अब तक विभिन्न थाना क्षेत्रों से पुलिस ने 112 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। साथ ही अभियुक्तों से 211,76, 74,882/- रु. की संपत्ति कुर्क की गई है।

गौ तस्करों की संपत्तियां भी जब्त

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश एस (SSP Rajesh S) ने बताया कि, 'गैंगस्टर व माफियाओं के खिलाफ यह अभियान जारी रहेगा। उनका कहना है कि बड़े से बड़े अपराधियों का पर्दाफाश करने के साथ ही अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजा गया। गैंगस्टर की कार्रवाई करने के साथ ही उनकी संपत्ति को कुर्क किया गया। इसमें अपराधियों की जमीन, प्लाट, आवास बैंक अकाउंट में जमा रुपये के साथ ही वाहन भी शामिल हैं। उनका कहना है कि पुलिस के द्वारा अपराधियों के खिलाफ की जा रही कार्रवाई से उनके हौसले पस्त हो चुके है। खनन माफियाओं व गौ तस्करों की संपत्तियों को जब्त किया गया है।'

जनता को चूना लगाने वाले आरोपियों की जमानत खारिज

झांसी की जनता को करोड़ों रुपए का चूना लगाने वाले नटवरलाल ओमप्रकाश अग्रवाल एवं उनके परिजनों की जमानत प्रार्थना पत्र अदालत ने खारिज कर दिया है। अधिवक्ता विवेक बाजपेयी के मुताबिक सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के सीपी मिशन कंपाउंड में रहने वाले ओम प्रकाश अग्रवाल, योगेश अग्रवाल और आकाश के खिलाफ सीपरी बाजार थाना में दफा 420,467,469,504,506 के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया था। तीनों आरोपियों पर करोड़ों रुपया हड़पने का आरोप था। मंगलवार को अपर सत्र न्यायाधीश संख्या-6 की अदालत ने तीनों आरोपियों के जमानती प्रार्थना पत्र खारिज कर दिए हैं।

aman

aman

Content Writer

अमन कुमार - बिहार से हूं। दिल्ली में पत्रकारिता की पढ़ाई और आकशवाणी से शुरू हुआ सफर जारी है। राजनीति, अर्थव्यवस्था और कोर्ट की ख़बरों में बेहद रुचि। दिल्ली के रास्ते लखनऊ में कदम आज भी बढ़ रहे। बिहार, यूपी, दिल्ली, हरियाणा सहित कई राज्यों के लिए डेस्क का अनुभव। प्रिंट, रेडियो, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया चारों प्लेटफॉर्म पर काम। फिल्म और फीचर लेखन के साथ फोटोग्राफी का शौक।

Next Story