Top

ग्रीन पार्क में IPL पर पानी संकट, राजीव शुक्ला को कोर्ट ने किया तलब

By

Published on 2 May 2016 4:10 PM GMT

ग्रीन पार्क में IPL पर पानी संकट, राजीव शुक्ला को कोर्ट ने किया तलब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: कानपुर में होने वाले आईपीएल मैच पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। कानपुर कोर्ट ने मैच पर रोक लगाने की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए आईपीएल कमिश्नर राजीव शुक्ला को नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब किया है।

क्या है मामला ?

कानपुर निवासी हर्ष कुमार ने सिविल जज जूनियर डिवीजन में मुकदमा दाखिल करते हुए कहा था कि शहर में पानी की किल्लत है। दूसरी तरफ पिच और मैदान के रखरखाव पर लाखों लीटर पानी बर्बाद किया जा रहा है। इसके साथ ही यूपीसीए और राज्य सरकार के बीच जो करार हुआ था उसका भी उल्लंघन हो रहा है।

'हम जनता का पानी उपयोग नहीं करते हैं'

याचिकाकर्ता हर्ष कुमार ने कहा,' ग्रीन पार्क की तैयारियों के निरीक्षण के दौरान आईपीएल चेयरमेन राजीव शुक्ला ने कहा था कि हमारा खुद का ट्यूबवेल है और हम उसी का इस्तेमाल करते हैं।' हम जनता का पानी उपयोग नहीं करते हैं।

राजीव शुक्ला मैच थोप रहे हैं

इस बयान पर हर्ष ने कहा कि पानी तो पानी है चाहे वह जनता का हो या खुद का। उन्होंने कहा कि ग्रीन पार्क में रोजाना लाखों लीटर पानी बर्बाद किया जा रहा है। यह वही मैच है जिस पर महाराष्ट्र हाई कोर्ट ने रोक लगा दी है। जब वहां पानी की किल्लत है तो कानपुर में भी पानी की किल्लत है। जनता पानी के लिए परेशान है और राजीव शुक्ला जबरन मैच करवाने पर तुले हैं।

चोरी का पानी कर रहे इस्तेमाल

याचिकाकर्ता के वकील विजय बख्शी ने बताया कि कोर्ट ने बहस सुनने के बाद राजीव शुक्ला के खिलाफ नोटिस जारी करते हुए 6 मई को जवाब तलब किया है। उन्होंने बताया कि यूपीसीए का राज्य सरकार से करार हुआ है कि जल-कल विभाग को कर देना होगा। जब कर दिया जाएगा तभी विभाग पानी देगा और तभी मैच होगा। फ़िलहाल यह चोरी का पानी इस्तेमाल कर रहे हैं।

Next Story