Top

कानपुर देहात: सांसद देवेंद्र सिंह बोले- सरकारी योजनाओं को जनता तक पहुंचाएं

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक सांसद/अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह भोले की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। बैठक में सांसद ने सभी अधिकारियों से कहा कि सरकार की मंशा के अनुरूप सभी अधिकारी निष्पक्ष ढंग से कार्य करें, किसी प्रकार के भ्रष्टाचार की शिकायत नही आनी चाहिए और सरकारी योजनाओं को आम व्यक्ति तक पहुचाए जिससे प्रदेश और जनपद का विकास हो सके।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 21 March 2021 3:40 PM GMT

कानपुर देहात: सांसद देवेंद्र सिंह बोले- सरकारी योजनाओं को जनता तक पहुंचाएं
X
सांसद देवेन्द्र सिंह भोले की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की हुई बैठक, दिये निर्देश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर देहात: जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक सांसद/अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह भोले की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। बैठक में सांसद ने सभी अधिकारियों से कहा कि सरकार की मंशा के अनुरूप सभी अधिकारी निष्पक्ष ढंग से कार्य करें, किसी प्रकार के भ्रष्टाचार की शिकायत नही आनी चाहिए और सरकारी योजनाओं को आम व्यक्ति तक पहुचाए जिससे प्रदेश और जनपद का विकास हो सके।

बैठक में सांसद ने कहा कि दिशा के माध्यम से प्रशासन और जनप्रतिनिधि मिल कर जनता के हितार्थ कार्य करेंगे और उनकी परेशानियों को दूर करेंगे साथ ही उन्होंने कहा कि पहले जो यह धारणा चली आ रही थी कि 100 पैसे में केवल 25 पैसे का लाभ आमजन को मिल पाता है लेकिन अब ऐसा नही होगा अब 100 पैसे अगर शासन से चलेंगे तो 100 पैसे ही जनता के पास पहुंचेंगे तभी सुशासन की अवधारणा चरितार्थ हो सकेंगी।

अधिकारियों की उपस्थिति सुनिश्चित

उक्क्त बैठक में सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों की उपस्थिति सुनिश्चित की गयी। वहीं कार्यक्रम के पूर्व सरकार के चार वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर कृषि प्रशिक्षण महाविद्यालय चरगाॅवा गोरखपुर में पूर्वान्ह प्रातः 11 बजे से मा0 मुख्यमंत्री जी के सम्बोधन एलईडी के माध्यम से कलेक्टेªट सभाकक्ष में सभी जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों ने सुना तथा देखा गया।

बैठक

सभी व्यवस्थायें ठीक करने के निर्देश

बैठक में विद्युत विभाग द्वारा लाभार्थियों को ज्यादा बिल देने, बिना विद्युत संचालित होने के बावजूद बिल आना, विद्युत मीटर न बदलना, टूटे, जर्जर तार व खंभे न बदलने आदि लापरवाही पर जनप्रतिनिधियों ने कडी नाराजगी जाहिर करते हुए एक सप्ताह में सभी व्यवस्थायें ठीक करने के निर्देश दिये है। वही जल निगम अधिकारी व डीपीआरओ को निर्देश दिये गये कि अब गर्मी का मौसम आ गया है तथा जनपद के सभी खराब हैंडपंप ठीक करा ले तथा किसी भी प्रकार की लापरवाही न की जाये तथा जिस हैण्डपंप में खराब व दुर्गन्ध पानी आ रहा है उसे भी चेक कराकर सही कराये। वहीं उन्होंने कहा कि जो पानी की टंकियां है उसे भी साफ कराये तथा उसमें दवा आदि डाले जिससे कि लोगों को सही पानी मिल सके।

उन्होंने प्रदूषण अधिकारी को निर्देशित किया कि जनपद में पर्यावरण को स्वच्छ बनाये रखने हेतु एक निश्चित कार्य योजना बनाये जिससे कि इस दिशा में सार्थक प्रयास किया जा सके। वहीं मुख्य विकास अधिकारी द्वारा बताया गया कि समूह के माध्यम से जनपद में सौलर लैप व प्रेरणा कैन्टीन का कार्य ठीक ढंग से चल रहा है जिस पर जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रसन्नता जाहिर की गयी। वहीं लोक निर्माण विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद की ऐसी सड़के चिन्हित कर ले जिनका चैड़ीकरण किया जा सके तथा लिस्ट को जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध करा दे। उक्त बैठक में स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, श्रम विभाग, उद्योग विभाग, पशु पालन विभाग, सभी नगरीय निकाय आदि विभागों के अधिकारियों से विभागवार चर्चा की गयी।

बैठक

सभी योजनाओं की समीक्षा

उक्त अवसर पर महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, प्रधानमंत्री आवास शहरी योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेय जल योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, डिजिटल भू-अभिलेख आधुनिकीकरण योजना, दीनदयाल ग्रामीण ज्योति योजना, प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन योजना, सर्व शिक्षा अभियान योजना, समेकित बाल विकास योजना, प्रधामंत्री उज्जवल योजना गैस कनेक्शन, जल मार्ग विकास योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना सहित सभी योजनाओं की समीक्षा की गयी। वहीं अन्त में जिलाधिकारी जितेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा सुझाए गये सम्पूर्ण बातों पर ध्यान दिया जायेगा और उनको शीघ्र ही दूर कर लिया जायेगा।

ये सभी रहे उपस्थित

उक्त अवसर पर जालौन गरौठा सांसद भानू प्रताप वर्मा, जिलाधिकारी जितेन्द्र प्रताप सिंह, मुख्य विकास अधिकारी सौम्या पाण्डेय, विधायक भोगनीपुर विनोद कटियार, विधायक अकबरपुर रनियां प्रतिभा शुक्ला, एमएलसी दिलीप उर्फ कल्लू यादव, अरूण पाठक, इटावा सांसद प्रतिनिधि अरविन्द कठेरिया, जालौन गरौठा सांसद प्रतिनिधि श्याम सिंह सिसौदिया, जितेन्द्र सिंह गुड्डन, रवि शुक्ला, सत्यप्रकाश संखवार, जिला विकास अधिकारी गोरखनाथ भट्ट, डी0सी0 मनरेगा हरीश चन्द्र, जिला कृषि अधिकारी सुमित पटेल, परियोजना निदेशक दिनेश यादव, जिल पंचायत राज अधिकारी अजय कुमार सिंह, जिला सूचना अधिकारी नरेन्द्र मोहन, सहित सम्बन्धित अधिकारीगण व जनप्रतिनिधिगण आदि उपस्थित रहे।

[video width="640" height="288" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2021/03/1616336272332.mp4"][/video]

रिपोर्ट- मनोज सिंह

Monika

Monika

Next Story