×

Kalanjali 2024: 'छात्रों की छिपी ताकत सामने ला रहा महोत्सव', बोले दैनिक जागरण प्रकाशन समूह के चेयरमैन डॉ. महेंद्र मोहन गुप्त

Kalanjali 2024: महेंद्र मोहन गुप्त ने कहा, 'अच्छा होगा स्नातक स्तर के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के साथ ही इंटर कॉलेज के छात्रों को भी इसमें भाग लेने का अवसर दिया जाए। क्योंकि, ये कक्षाएं ही कॉलेजों की नर्सरी हैं।

Network
Newstrack Network
Published on: 16 Feb 2024 5:14 PM GMT
Kalanjali 2024
X

कलांजलि-2024 का उद्घाटन करते डॉ. महेंद्र मोहन गुप्त (Social Media)

Kalanjali 2024: कानपुर में साहित्यिक एवं सांस्कृतिक महोत्सव कलांजलि-2024 (Kalanjali 2024) का उद्घाटन शुक्रवार (16 फरवरी) को हुआ। यह महोत्सव 22 फरवरी तक चलेगा। इसमें कानपुर के डिग्री कॉलेजों एवं व्यावसायिक शिक्षण संस्थानों के करीब 4000 हजार छात्र-छात्राएं शरीक होंगे। इस मौके पर दैनिक जागरण प्रकाशन समूह के चेयरमैन डॉ. महेंद्र मोहन गुप्त ने कहा कि, 'कलांजलि-2024 का ये उत्सव इसलिए मनाया जा रहा है ताकि विद्यार्थियों के अंदर जो इनोवेशन हैं, आप में जो छिपी ताकत है उसको सामने लाएं।'

'प्रतिभा निखारने, संवारने का सशक्त मंच'

डॉ. महेंद्र मोहन गुप्त ने आगे कहा, 'आप अपने जीवन को कैसे आगे बढ़ाएं? इसके लिए प्रतियोगिता एवं मनोरंजन का समावेश कलांजलि में समाहित है। गुप्त बोले, जागरण एजुकेशन फाउंडेशन (Jagran Education Foundation) का यह पांच दिवसीय उत्सव कानपुर के तमाम शैक्षिक संस्थानों और कॉलेजों के लिए अपनी प्रतिभा निखारने व संवारने का सशक्त मंच है। उन्होंने कहा, हम चाहेंगे इसका दायरा कानपुर तक ही सीमित न रहे और व्यापक हो।'

डॉ. महेंद्र मोहन गुप्त- ये कक्षाएं ही कॉलेजों की नर्सरी

महेंद्र मोहन गुप्त ने कहा, 'अच्छा होगा स्नातक स्तर के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के साथ ही इंटर कॉलेज के छात्रों को भी इसमें भाग लेने का अवसर दिया जाए। क्योंकि, ये कक्षाएं ही कॉलेजों की नर्सरी हैं। उन तक भी यह संदेश जाना चाहिए कि जागरण एजुकेशन फाउंडेशन का यह मंच उनकी नींव मजबूत करने व भविष्य के लिए कितना महत्वपूर्ण व उपयोगी है'। वह कलांजलि के उद्घाटन सत्र को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे।

सात दिवसीय महोत्सव का आयोजन

इससे पूर्व, जागरण एजुकेशन फाउंडेशन के तत्वावधान में 16 फरवरी से 22 फरवरी तक चलने वाले सप्त दिवसीय अंतर महाविद्यालयी महोत्सव कलांजलि का आज लक्ष्मी देवी ऑडिटोरियम में उद्घाटन हुआ। महोत्सव का उद्घाटन मुख्य अतिथि डॉ. महेंद्र मोहन गुप्त (चैयरमैन, दैनिक जागरण प्रकाशन समूह), डॉ. जे.एन. गुप्त (सी.ई.ओ, जागरण एजुकेशन फाउंडेशन) तथा जिम, जिम्सी, जिडा तथा जागरण कॉलेज इन सभी संस्थाओं के संस्था प्रमुखों द्वारा दीप प्रज्वलन तथा स्वस्तिवाचन के साथ किया गया।

सरस्वती पूजन और गणेश वंदना

उसके बाद सरस्वती पूजन तथा गणेश वंदना के बाद श्रुति शुक्ला (जागरण कॉलेज) ने अतिथियों का स्वागत किया। समारोह का संचालन जागरण कॉलेज की छात्राओं गुनिका कपूर तथा सृष्टि गुप्ता द्वारा किया गया। यह पूरा इंटर कॉलेजिएट फेस्ट चार भागों लिट फेस्ट, टेक्नोफेस्ट, क्रिएटिव फेस्ट तथा कल्चरल फेस्ट में बांटा गया था, जिसमें लिट़्फेस्ट जिमसी, टेक्नो फेस्ट जिम, क्रिएटिव फेस्ट जिडा तथा कल्चरल फेस्ट जागरण कॉलेज द्वारा आयोजित किया गया है।

श्लोक पाठ प्रतियोगिता से शुरुआत

उद्घाटन सत्र के बाद जागरण इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एण्ड मॉस कम्युनिकेशन के लिट् फेस्ट का आरंभ श्लोक पाठ प्रतियोगिता से हुआ। जिसमें प्रतिभागियों ने श्लोकों का पाठ किया। श्लोक पाठ प्रतियोगिता का निर्णय श्रीमती विजयलक्ष्मी त्रिवेदी (पूर्व प्राचार्या, आचार्य नरेंद्र देव नगर निगम महिला महाविद्यालय) तथा प्रोफेसर एस.पी. त्रिपाठी (पूर्व निदेशक, जागरण इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट एंड मॉस कम्युनिकेशन) ने किया। अंत में श्री आर. के. बाजपेई (जिम्सी) ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

लिट फेस्ट के तहत कई आयोजन

इसके बाद लिट फेस्ट के अंतर्गत दूसरी प्रतियोगिता स्वरचित काव्य पाठ की रही। जिसमें आजादी के अमृत महोत्सव के पांच प्रण पर छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय, चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं तकनीकी विश्वविद्यालय व डिग्री कालेजों के प्रतिभागियों ने स्वरचित कविता पाठ किया। स्वरचित काव्य पाठ में डॉ.अशोक मिश्रा तथा डॉ. आभा सिंह निर्णायक रहीं। अंत में अक्षिता वर्मा (जिम्सी) ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। इस कार्यक्रम में असिस्टेंट प्रोफेसर धीरज शर्मा व असिस्टेंट प्रोफेसर रामजी वाजपेयी की उपस्थिति उल्लेखनीय रही।

कई राउंड में चली प्रतियोगिता

इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट के प्रथम सत्र पर 'Quiz Mania, E-Canvas Shaping the Thoughts' कार्यक्रम आयोजित किए गए। प्रथम सत्र पर Quiz Mania प्रतियोगिता में कुल 20 टीमों ने प्रतिभाग किया जिसमे निर्धारित दो राउंड हुए। दूसरे निर्णायक राउंड में तीन टीमों को चयनित किया गया। आयोजन संस्थान के असिस्टेंट प्रोफेसर आनंद कुमार दीक्षित ने किया। द्वितीय सत्र पर E Canvas Shaping Your Thought प्रतियोगिता में कुल 7 टीमों ने प्रतिभाग किया जिसमें निर्धारित दो राउंड हुए। दूसरे निर्णायक राउंड में 6 टीमों को चयनित किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में सरबानी भाटिया (I.T.Head, Jagran Prakashan Limited,Kanpur ) उपस्थित रहीं। आयोजन संस्थान के असिस्टेंट प्रोफेसर अवनीश कुमार दीक्षित ने किया एवं संचालन आयुषी ओमर ने किया।

'Talk like A Professional' कार्यक्रम

तृतीय सत्र पर आयोजित प्रोग्राम Talk like A Professional कार्यक्रम के अंतर्गत कुल 9 टीमों ने प्रतिभाग किया जिसमे से अंतिम राउंड में 7 प्रतिभागित छात्र छात्राओं का चयन किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में श्रीमती रुचि कोहली समाज सेविका उपस्थित हुईं। कार्यक्रम का आयोजन संयुक्त रूप से मिस मीनाक्षी रोल्सटन एवं पवन ओमर ने किया तथा संचालन वैष्णवी अवस्थी ने किया। इस अवसर पर संस्थान के डीन एकेडमिक डॉ. अनिल कुमार सिंह सहित सभी विभागों के शिक्षक गण उपस्थित रहे।

ई-गेमिंग का फाइनल 17 फ़रवरी को

क्रिएटिव फेस्ट में 16 फ़रवरी को 'बेस्ट आउट ऑफ वेस्ट', 'पॉट डेकोरेशन और ई-गेमिंग' प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। जिसमें कानपुर क्षेत्र के विभिन्न कॉलेजों के छात्र-छात्राएं ने भाग लिया। बेस्ट आउट ऑफ वेस्ट और पॉट डेकोरेशन प्रतियोगिताओं की जज, कानपुर विद्या मंदिर इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्या शिखा प्रधान निगम ने सभी प्रतिभागियों के काम की सराहना की। ई-गेमिंग जिसमें दो वर्ग फ्री फायर और बीजीएम आई गेम प्रतियोगिता हुई, जिसमें फ्री फायर में 8 राउंड के बाद 2 टीमें फाइनल में पहुंच गई है। वहीं, दूसरी तरफ बीजीएम आई में 3 राउंड हुए, जिसमें से 3 टीमें अगले राउंड में पहुंच गई हैं। दोनों ई-गेमिंग के वर्ग का फाइनल दिनांक 17 फ़रवरी को होगा।

वहीं दूसरी तरफ, ऑनलाइन प्रतियोगिता 50 ऑवर फिल्म मेकिंग चैलेंज में शुक्रवार को 12 बजे तक सभी प्रतिभागी टीम ने अपनी फिल्म को ई-मेल के माध्यम से सबमिशन कर दिया। 50 ऑवर फिल्म मेकिंग चैलेंज में कानपुर क्षेत्र के साथ-2 तीर्थांकर महावीर यूनिवर्सिटी, कुमार मंगलम यूनिवर्सिटी, वाईएमसीएम के छात्र-छात्राएं ने भाग लिया। सभी प्रतियोगिताओं को कोऑर्डिनेट श्रीमती शेफाली दीक्षित, मोनिका खंडुजा, शिवम शुक्ला, आयुष्मान श्रीवास्तव, आशीष पांडे, शिव शंकर जी ने किया। इस अवसर पर अनेक गणमान्य अतिथि, विभिन्न महाविद्यालय तथा जागरण एजुकेशन फाउंडेशन के शिक्षक शिक्षिकाएं उपस्थित रहे।

aman

aman

Content Writer

अमन कुमार - बिहार से हूं। दिल्ली में पत्रकारिता की पढ़ाई और आकशवाणी से शुरू हुआ सफर जारी है। राजनीति, अर्थव्यवस्था और कोर्ट की ख़बरों में बेहद रुचि। दिल्ली के रास्ते लखनऊ में कदम आज भी बढ़ रहे। बिहार, यूपी, दिल्ली, हरियाणा सहित कई राज्यों के लिए डेस्क का अनुभव। प्रिंट, रेडियो, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया चारों प्लेटफॉर्म पर काम। फिल्म और फीचर लेखन के साथ फोटोग्राफी का शौक।

Next Story