×

TRENDING TAGS :

Election Result 2024

Kasganj News: महाराणा प्रताप की प्रतिमा से अभद्र व्यवहार पर क्षत्रिय महासभा के नेताओं में रोष

Kasganj News: क्षत्रिय समाज के पदाधिकारियों ने कहा कि लगातार हो रहे क्षत्रिय समाज के अपमान को सहन नही किया जाएगा। जो समाज का विरोध करेगा उसे इस चुनाव में खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

Ajay Chauhan
Published on: 5 May 2024 5:02 PM GMT
Kasganj News
X

Kasganj News (Pic:Newstrack)

Kasganj News: मैनपुरी में महाराणा प्रताप की प्रतिमा से छेड़छाड़ करने के मामले में कई क्षत्रिय संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने मीडिया से वार्ता किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हो रहे लोकसभा चुनाव के दौरान समाजवादी पार्टी के नेता लगातार क्षत्रिय समाज को अपमानित कर कर रहे हैं। मैनपुरी में भाजपा से क्षत्रिय समाज से उम्मीदवार जयवीर सिंह के विरुद्ध सपा से अखिलेश यादव की धर्मपत्नी डिम्पल यादव का मुकाबला है, लोकतांत्रिक तरीके से जो भी जीतने का काम करेगा। वो वहां के सभी समाज का नेतृत्व करेगा परंतु जिस प्रकार समाजवादी पार्टी के समर्थकों एवं कार्यकर्ताओ द्वारा राष्ट्र के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले क्षत्रिय समाज के वीर महापुरुष महाराणा प्रताप के प्रतिमा पर सपाइयों द्वारा तोड़फोड़ कर उनके हाथ में सपा का झंडा पकड़ा कर पूरे क्षत्रिय समाज को अपमानित करने का दुस्साहस किया गया है वो अक्षम्य है।

इस घटना पर समाजवादी नेताओं द्वारा न तो कोई खेद व्यक्त किया गया और न ही सार्वजनिक रूप से क्षत्रिय समाज की भावनाओं को समझने का प्रयास किया गया है। इसको लेकर 44 जनपदों से क्षत्रिय संगठनों द्वारा घटना के विरोध में ज्ञापन प्रेषित किया गए हैं। बीते दिनों भारतीय किसान यूनियन के क्षत्रिय नेता भानुप्रताप सिंह से सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने समर्थन मांगा था जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया था पर अगले ही दिन समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने बयान जारी किया कि उनकी पार्टी को किसी संगठन का समर्थन नही चाहिए, ऐसा बोलकर किसान यूनियन के बुजुर्ग नेता का अपमान किया गया है।

लगातार हो रहे क्षत्रिय समाज के अपमान को सहन नही किया जाएगा और अब जो क्षत्रिय भाजपा से नाराज चल रहे थे वो सभी एकजुटता के साथ भाजपा को वोट कर अपने समाज के अपमान का बदला समाजवादी पार्टी से लेने का काम करेंगे। बैठक में मीडिया को जानकारी क्षत्रिय समाज के नेता प्रवीण सिंह द्वारा दी गई है। उनके साथ कई क्षत्रिय संगठन के नेता वार्ता के दौरान मौजूद रहे।

Durgesh Sharma

Durgesh Sharma

Next Story