×

UP: अतिक्रमण हटाने पहुंची KDA की टीम और पुलिस पर पथराव, दो महिला सिपाही घायल

अतिक्रमण हटाने पहुंची केडीए की टीम पर बुधवार (24 मई) को ग्रामीणों ने पथराव कर दिया। पथराव में दो महिला सिपाही घायल हो गई।

sujeetkumar

sujeetkumarBy sujeetkumar

Published on 24 May 2017 1:39 PM GMT

UP: अतिक्रमण हटाने पहुंची KDA की टीम और पुलिस पर पथराव, दो महिला सिपाही घायल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कानपुर: अतिक्रमण हटाने पहुंची कानपुर विकास प्राधिकरण (केडीए) की टीम पर बुधवार (24 मई) को ग्रामीणों ने पथराव कर दिया। पथराव में दो महिला सिपाही घायल हो गई। इतना ही नहीं आक्रोशित ग्रामीणों ने तीन बाइकों को भी आग के हवाले कर दिया। मामला बढ़ता देख पुलिस ने लाठी चार्ज कर ग्रामीणों खदेड़ा।

क्या है मामला?

चकेरी थाना क्षेत्र के सनिगावा में कानपुर विकास प्राधिकरण प्लाटिंग कर रहा है, लेकिन जमीन पर भू माफियाओं और ग्रामीणों का कब्ज़ा है।

ग्रामीण जमीनों पर कब्जा कर तकरीबन पचास साल से वहां रह रहे हैं। केडीए जमीन को खाली करना चाहते हैं, लेकिन रसूख के चलते भू माफिया ये जमीन खाली करने को तैयार नहीं हैं। भू माफिया यहां की काफी जमीन बेच भी चुके हैं।

बुधवार को कानपुर विकास प्राधिकरण के टीम, प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस सनिगावा में जमीन खली करवाने पहुंची। अधिकारीयों ने जैसे ही अतिक्रमण हटाने का आदेश दिया वैसे ही ग्रामीणों ने उनपर हमला बोल दिया। मामला बढ़ता देख भरी मात्रा में पुलिस बल बुलवाई गई, और मामला शांत करने की कोशिश की गई, लेकिन ग्रामीणों के गुस्से के आगे प्रशासन को घुटने टेकने पड़े।

ग्रामीण कल्लू और शंकर के मुताबिक, वो लोग 30 साल से यहां रह रहे हैं, वहीं केडीए ने अतिक्रमण हटाने से पहले किसी प्रकार की नोटिस नहीं दी थी, इससे गुस्साए लोगों ने उनपर पथराव कर दिया।

एसपी पूर्वी अनुराग आर्या, एसपी वेस्ट, एसपी साऊथ समेत सीओ काफी मशक्त गांव में घुसे और ग्रामीणों से बातचीत कर मामले को शांत कराया। एसपी अनुराग आर्या का कहना है कि जिन लोगों ने सरकारी काम में बाधा डाली है, और पथराव और आगजनी की है उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

sujeetkumar

sujeetkumar

Next Story