KGMU: अस्पतालों में हो रहे बवाल, कार्रवाई पर उठ रहे सवाल

बीते कुछ समय में राजधानी के अलग अलग अस्पतालों में असामाजिक घटनाएं हो रही हैं। रैगिंग से लेकर छेड़खानी, मारपीट, महिलाओं से अभद्रता एक आम बात हो गई है। अफसोस की बात यह है कि शिकायत करने के बाद भी कई मामलों में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

Published by Manali Rastogi Published: November 26, 2018 | 4:36 pm

लखनऊ: बीते कुछ समय में राजधानी के अलग अलग अस्पतालों में असामाजिक घटनाएं हो रही हैं। रैगिंग से लेकर छेड़खानी, मारपीट, महिलाओं से अभद्रता एक आम बात हो गई है। अफसोस की बात यह है कि शिकायत करने के बाद भी कई मामलों में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

यह भी पढ़ें: वाहनों के धुएं से रहें दूर वरना हो सकता है ऑस्टियोपोरोसिस

कमेटी गठित होने के बाद भी नहीं निकला नतीजा

KGMU में अभी तक कई मामले लंबित पड़े हैं। हर घटना के बाद जांच कमेटी बनने के बाद भी कोई फैसला नहीं आता।

यह भी पढ़ें: जन चेतना यात्रा के जरिये बच्चों ने दिया सर्वधर्म समभाव और भाईचारे का सन्देश

सरदार पटेल में हुई मारपीट

सरदार पटेल कॉलेज के हॉस्टल में 5 नवंबर को कर्मचारियों में हुई मारपीट पर जांच कमेटी गठित हुई पर अभी तक कोई फैसला नहीं आया।

यह भी पढ़ें: पति को सवार हुआ खून तो लुधियाना से आकर पत्नी का हंसिया से रेत दिया गला

क्वीन मेरी में महिला कर्मचारी से हुई अभद्रता

क्वीन मेरी की महिला कर्मचारी ने अपने ही साथियों पर छेड़खानी और जाती के आधार पर अभद्रता का आरोप लगाया। इस मामले में भी एक जांच कमेटी बनी पर कोई फैसला नहीं आया। महिला ने पुलिस से भी शिकायत की। मगर कोई हल  नहीं निकला।

रिपोर्ट आने पर होगी कार्रवाई

इस मामले में KGMU के पीआरओ डॉ सन्तोष कुमार का कहना है कि सभी मामले गम्भीर हैं। जांच कमेटियां ईमानदारी से काम कर रही हैं। घटना का हर पहलू जानने की कोशिश हो रही है। इसलिए देर लग रही है। रिपोर्ट आते ही कार्रवाई होगी। बहरहाल सभी पीड़ितों को फैसला आने का इंतज़ार है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App