Top

बड़े बेआबरू होकर निकले वाजपेयी, नहीं दे पाए नए अध्‍यक्ष को बधाई

Admin

AdminBy Admin

Published on 12 April 2016 7:47 AM GMT

बड़े बेआबरू होकर निकले वाजपेयी, नहीं दे पाए नए अध्‍यक्ष को बधाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

ASHUTOSH TRIPATHI ASHUTOSH TRIPATHI

लखनऊ: राजनीति का पासा पलटने में देर नहीं लगती। केशव प्रसाद मौर्या के लखनऊ में भाजपा अध्यक्ष बनाए जाने के घोषणा के तुरंत बाद ही जिस तरह पार्टी मुख्यालय से रंग-रोगन के नाम पर लक्ष्मीकांत वाजपेयी से तुरंत कमरा खाली करा लिया गया, वो उनके समर्थकों को नागवार गुजरा।

कैसे क्‍या हुआ ?

-सोमवार को भाजपा के नए अध्‍यक्ष केशव प्रसाद मौर्या के स्वागत समारोह में जमकर भीड़ पहुंची।

-पार्टी मुख्यालय से रंग रोगन के नाम पर लक्ष्मीकांत वाजपेयी से कमरा खाली करने को कहा गया।

-बड़ी मुश्किल से धक्का मुक्की के बाद वाजपेयी को उनसे मिलने की जगह मिल सकी।

dfgd

ये भी पढ़ें...केशव बोले- यूपी में सपा को उखाड़ फेकेंगे, 100 सीटों पर सिमट जाएगी BSP

-लेकिन वह भी ज्यादा देर तक टिकी न रह सकी।

-केशव मौर्या को घेरे उनके समर्थकों की भीड़ की धक्‍कामुक्‍की में वह बाहर हो गए।

-वाजपेयी भीड़ से दूर काफी देर तक इंतजार करते रहे।

-थोड़ी देर में ही उन्हें समझ में आ गया कि आज कोई और आकर्षण का केंद्र है।

-जिसके बाद वह अपने मुट्ठी भर समर्थकों के साथ बिना कुछ कहे वहां से निकल गए।

dgsd

औरों को भी नहीं मिल पाया मौका

-ये दर्द सिर्फ पूर्व अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी का ही नहीं था।

-बीजेपी के कई कद्दावर नेताओं का था।

-बीजेपी के पूर्व एमएलए सुरेश चन्द्र वाजपेयी ने भी नवनिर्वाचित अध्यक्ष को बधाई देने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा दिया।

-लेकिन वह भी सफल नहीं हो पाए।

-ऐसे में कई नेताओं के मुंह से निकल ही पड़ा, अब अच्छे दिन शायद कभी नहीं आएंगे।

ये भी पढ़ें: पैर छूकर केशव ने किया सीनियर्स को इंप्रेस, सोशल मीडिया पर हैं एक्टिव

trhrt

fsdf

Untitled-1dgrae

fhd

Admin

Admin

Next Story