Top

LDA ने गिराई सपा MLA की बिल्डिंग, रिवॉल्वर दिखाने पर 9 अरेस्ट

Admin

AdminBy Admin

Published on 29 April 2016 8:24 AM GMT

LDA ने गिराई सपा MLA की बिल्डिंग, रिवॉल्वर दिखाने पर 9 अरेस्ट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सीतापुर से सपा एमएलए रामपाल यादव का अवैध निर्माण तोड़ने पहुंची एलडीए की टीम पर एमएलए के गुर्गों ने हमला कर दिया। एलडीए के सचिव श्रीश चंद्र वर्मा को भी पीट दिया। इस दौरान रिवॉल्वर लहराई गई। एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि एलडीए की तहरीर पर विधायक समेत 9 पर केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

-लोहिया पथ पर बनाई जा रही अवैध मल्टीस्टोरी बिल्डिंग को गिराने के लिए एलडीए यूनिट का दस्ता पहुंचा।

-जेसीबी ने अपना काम शुरू ही किया था कि रामपाल के समर्थक मौके पर पहुंच गए। उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया।

-एलडीए सचिव को थप्पड़ जड़ दिए। मामला बिगड़ते देख पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

-सपा एमएलए को समर्थकों सहित हिरासत में ले लिया गया।

-विवाद बढ़ा तो एलडीए के अफसर मौके से गायब हो गए।

BUILDING

9 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

-एलडीए के अलोक रंजन गुप्ता ने गौतमपल्ली थाने में रामपाल और उनके बेटे समेत 9 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है।

-एसएसपी राजेश कुमार पांडेय के मुताबिक़, एलडीए की तहरीर पर विधायक रामपाल यादव, राजेन्द्र यादव, जितेंद्र यादव, पुष्पेन्द्र यादव, शिवेंद्र यादव, गगन यादव, तौकीर अहमद, शिव कुमार, आरती यादव के खिलाफ केस दर्ज कर सबको गिरफ्तार कर लिया गया है।

-इनके खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 307, 336, 504, 352, 353, 506, 7 सीएलए(क्रिमिनल लॉ अमेंडमेंट) एक्ट और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है।

-इसमें जितेंद्र के पास लाइसेंसी पिस्टल और .32 बोर के चार कारतूस, पुष्पेन्द्र के पास भी एक लाइसेंसी पिस्टल और 7 कारतूस बरामद हुए हैं।

एमएलए बोला-बदले की कार्रवाई

-एमएलए रामपाल यादव ने कहा- यह दूसरी बार हुआ है कि एलडीए बिना कोर्ट के आदेश के कार्रवाई करने पहुंचा।

सपा से हुए थे सस्पेंड

-पंचायत चुनाव के दौरान सपा से रामपाल यादव को निकाल दिया गया था।

-इसके बाद उन्होंने जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में पार्टी के खिलाफ प्रत्याशी खड़े किए और जीत भी दिलाई।

-हालांकि, बाद में उनका सस्पेंशन वापस ले लिया गया।

-आखिरकार सीएम अखिलेश यादव की सख्ती के आगे सपा के बागी एमएलए रामपाल यादव की दबंगई काम न आई।

-गुरुवार दोपहर एलडीए के दस्ते ने पुलिस के साथ मिलकर की बेटी दीपा यादव के नाम दर्ज भूखंड के अवैध निर्माण ध्वस्त ध्वस्त करवा दिया।

-आप को बतादें इस निर्माणाधीन बिल्डिंग में सीएम के निर्देशों को ताक पर रखकर इस बागी

एमएलए ने व्यावसायिक काम शुरू करवा दिया था।

कार्रवाई के नाम पर एलडीए ने की थी खानापूर्ति

आपको बता दें, पिछले महीने 29 जनवरी 2016 को 2 जेसीबी, 1 जनरेटर, 1 थाने की पुलिस और 1 कंपनी पीएसी के साथ एलडीए का दस्ता अवैध निर्माण ढहाने पहुंचा था, लेकिन कार्यवाई शुरू करते ही एमएलए रामपाल ने प्रश्नों और आरोपों से एलडीए के अधिकारियों को घेर लिया था। कमाल की बात यह रही थी कि एलडीए द्वारा कार्यवाई करने की कोई खास तैयारी नहीं दिखी थी। एमएलए ने कहा था कि क्या एलडीए को पता है इस क्षेत्र में कितने अवैध निर्माण है? एलडीए अधिकारी इस सवाल का जवाब नहीं दे पाए थे। इसके बाद एमएलए ने जब ध्वस्तीकरण के आदेश एलडीए से मांगे तो अधिकारियों के पास वो भी नहीं मौजूद रहे थे। इसके बाद एलडीए दस्ता उल्टे पैर लौट गया था।

Admin

Admin

Next Story