Top

देश के सबसे बड़े एक्सप्रेस वे का शिलान्यास, सिमट जाएगी प्रदेश के कई जिलों की दूरी

एक्सप्रेस वे बनने के बाद इस पर 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से चला जा सकेगा। इस एक्सप्रेस वे की दूरी 4 घंटे में तय की जा सकेगी। भविष्य में इसे 6 लेन और उसके बाद 8 लेन का किया जाना प्रस्तावित है।

zafar

zafarBy zafar

Published on 22 Dec 2016 1:02 PM GMT

देश के सबसे बड़े एक्सप्रेस वे का शिलान्यास, सिमट जाएगी प्रदेश के कई जिलों की दूरी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा स्थित चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के पास समाजवादी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे (ग्रीन फील्ड) परियोजना का शिलान्यास किया। कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष और कई मंत्री भी शामिल थे।

सबसे बड़ा एक्सप्रेस वे

-यह एक्सप्रेस वे 353 किलोमीटर लंबा है जो लंबी दूरी वाला देश का पहला एक्सप्रेस वे है।

-राज्य सरकार की यह ग्रीन फील्ड परियोजना प्रदेश के कई जिलों को जोड़ेगी।

-इस एक्सप्रेस वे का निर्माण लखनऊ के गांव चांद सराय से बाराबंकी के हैदरगढ़, फैजाबाद, सुल्तानपुर, अम्बेडकर नगर, अमेठी, आजमगढ़, मऊनाथ भंजन, गाजीपुर के हैदरिया तक किया जायेगा।

-लखनऊ जिले का चांद सराय गांव लखनऊ-सुल्तानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है।

-हैदरिया गांव गाज़ीपुर-बलिया राष्ट्रीय मार्ग पर गाज़ीपुर जिले का हिस्सा है।

घटेगा समय

-एक्सप्रेस वे बनने के बाद इस पर 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से चला जा सकेगा।

-इस एक्सप्रेस वे की पूरी दूरी 4 घंटे में तय की जा सकेगी।

-भविष्य में इस ग्रीन फील्ड को 6 लेन और उसके बाद 8 लेन का किया जाना प्रस्तावित है।

-शिलान्यास के मौके पर विधानसभा अध्यक्ष माताप्रसाद पाण्डेय, काबीना मंत्री आज़म खान, अरविन्द सिंह गोप, रामगोविन्द चौधरी सहित कई मंत्री और अधिकारी मौजूद थे।

zafar

zafar

Next Story