Top

यूपी में ऑक्सीजन की सप्लाई को लेकर बड़ा कदम, कंट्रोल रूम की हुई स्थापना

अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि कल उत्तर प्रदेश में कल 500 मेट्रिक टन से ज्यादा ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई है।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkAPOORWA CHANDELPublished By APOORWA CHANDEL

Published on 28 April 2021 11:12 AM GMT

यूपी में ऑक्सीजन की सप्लाई को लेकर बड़ा कदम, कंट्रोल रूम की हुई स्थापना
X

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी (फाइल फोटो-सोशल मीडिया) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कोरोना काल में ऑक्सीजन की काफी किल्लत देखने को मिल रही है। इस कमी को पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। यह पूरे चौबीस घंटे काम करेगा। इस कंट्रोल रूम से प्रत्येक जिले को ऑक्सीजन की व्यवस्था की जा रही है। इस कंट्रोल रूम में फूड एंड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन, मेडिकल एजुकेशनल डिपार्मेंट, गृह विभाग और पुलिस के सभी वरिष्ठ लोग लगाए गए हैं। वहीं अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि कल उत्तर प्रदेश में कल 500 मेट्रिक टन से ज्यादा ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई है।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि इस कंट्रोल रूम से प्रत्येक जिले को ऑक्सीजन की व्यवस्था की जा रही है और जिला स्तर पर हॉस्पिटल और रिटेलर्स को ऑक्सीजन की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने कहा कि मुझे बताने में खुशी है कि कल माननीय मुख्यमंत्री जी के मार्गदर्शन में रिकॉर्ड ऑक्सीजन की सप्लाई उत्तर प्रदेश में हुई है। पहले कभी भी इतनी ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं हुई जितनी कल हुई है। 321 मैट्रिक टन की सप्लाई फूड एंड ड्रग्स एडिमिनिस्ट्रेशन के माध्यम से सीधे अस्पतालों और रिटेलर्स को हुई है। इसके साथ-साथ प्राइवेट और सरकारी मेडिकल कॉलेज के लिए भी सीधे लिक्विड ऑक्सीजन उपलब्ध कराई गई है और लगभग 600 मैट्रिक टन तक हम लोगों ने ऑक्सीजन सप्लाई की है।

रेलवे के माध्यम से सप्लाई

अवनीश अवस्थी ने बताया कि भारत सरकार ने उत्तर प्रदेश को मैक्सिमम 850 से अधिक मैट्रिक टन ऑक्सीजन का अलॉटमेंट दिया है। उत्तर प्रदेश पहला ऐसा राज्य रहा जिसने रेलवे के माध्यम से ऑक्सीजन की सप्लाई कराई। लखनऊ और वाराणसी में अबतक 5 बार रेलवे के माध्यम से ऑक्सीजन की सप्लाई हो चुकी है। एक तरफ हम लोग रोड और दूसरी तरफ रेलवे, तीसरी तरफ प्लेन से भी टैंकर खाली भेजकर उनको हम प्रदेश की व्यवस्था में जुटाएंगे।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के मार्गदर्शन से हम लोगों ने 24 घंटे में एक मांनिटरिंग सिस्टम बनाया है। यह एक हाई टैक्नोलॉजी सिस्टम है पूरे देश में पहली बार किसी प्रदेश ने ऐसा किया है। भारत सरकार ने भी इसको लेकर काफी तारीफ की है। उन्होंने बताया कि हमें भारत सरकार की तरफ से कल 5 नए बड़े टैंकर भी उपलब्ध कराए गए है।

Apoorva chandel

Apoorva chandel

Next Story