यूपी में हारेगा कोरोना: सीएम बोले-बढ़ाओ टेस्टिंग, RT-PCR से हो एक तिहाई जांच

लखनऊ में संक्रमण के सम्बन्ध में विशेष ध्यान देने की आवश्यकता बताते हुए कहा कि टेस्ट फोकस्ड होने चाहिए और हाई रिस्क ग्रुप की फोकस्ड टेस्टिंग की जाए साथ ही रिकवरी रेट को बेहतर किया जाए।

Published by suman Published: September 27, 2020 | 8:17 pm
Modified: September 27, 2020 | 8:18 pm
CM YOGI

फाइल फोटो

लखनऊ  यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ जिलें में कोविड-19 की टेस्टिंग बढ़ाने का निर्देश देते हुए कहा है कि कम से एक तिहाई टेस्ट आरटीपीसीआर द्वारा किए जाएं। उन्होंने लखनऊ में संक्रमण के सम्बन्ध में विशेष ध्यान देने की आवश्यकता बताते हुए कहा कि टेस्ट फोकस्ड होने चाहिए और हाई रिस्क ग्रुप की फोकस्ड टेस्टिंग की जाए साथ ही रिकवरी रेट को बेहतर किया जाए।

 

कोरोना की स्थिति की समीक्षा

वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रविवार को लखनऊ मण्डल में कोरोना की स्थिति की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण के लगातार बने हुए खतरे को देखते हुए सतर्कता व बचाव के उपायों को अपनाते हुए विकास गतिविधियों को संचालित करना है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 16 जनपदों में कोविड संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए वरिष्ठ नोडल अधिकारी तैनात किए गए हैं। लखनऊ के लिए तैनात अधिकारी सोमवार से कोविड-19 के नियंत्रण के सम्बन्ध में समन्वय करेंगे।

 

 

corona up file photo
file photo

बेहतर संचालन से रिकवरी रेट में वृद्धि

मुख्यमंत्री ने उन्नाव जिले में कोविड एल-2 अस्पताल को प्रभावी ढंग से चालू करने का निर्देश देते हुए कहा कि इसके बेहतर संचालन से रिकवरी रेट में वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि उन्नाव मंे आर्सेनिक व फ्लोराइड से प्रभावित गांवों में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार ने व्यापक कार्य योजना बनायी है। आर्सेनिक या फ्लोराइड से प्रभावित गांवों में यदि पाइप पेयजल की व्यवस्था नहीं है, तो उसकी व्यवस्था कर उन्हे योजना से आच्छादित किया जाए।

कोविड संक्रमण को नियंत्रित

मुख्यमंत्री ने हरदोई में सर्विलांस बढ़ाने जाने तथा कोविड संक्रमण से बचाव के उपाय अपनाने के लिए आमजनता को जागरूक करने का निर्देश देते हुए कहा कि कोविड संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए बेहतर कार्य योजना बनायी जाए। उन्होंने कहा कि एल-2 कोविड अस्पताल के हर बेड पर आॅक्सीजन की सुविधा उपलब्ध करायी जाए। उन्होंने सीतापुर में स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालयों के निर्माण कार्य को तेजी से पूरा करने का निर्देश देते हुए कहा कि इसके लिए हर ग्राम पंचायत में नोडल अधिकारी तैनात किया जाए, जो कार्यों को समयबद्ध ढंग से पूर्ण कराए। कोविड एल-2 अस्पताल को प्रभावी ढंग से संचालित किया जाए। आॅक्सीजन के साथ वेण्टीलेटर और एचएफएनसी की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

रिपोर्टर मनीष श्रीवास्तव

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App