×

Lucknow: गमछा गैंग ने सीखा 'फेसबुक' से बाइक चोरी की तरीका, 3 गिरफ्तार

Lucknow News: आलमबाग पुलिस ने गमछा गैंग के सरगना समेत 3 लोगों गिरफ्तार किया है। साथ ही उनके पास से 7 मोटरसाइकिल बरामद की है।

Shiva Sharma
Updated on: 28 May 2022 1:57 PM GMT
Lucknow: गमछा गैंग ने सीखा फेसबुक से बाइक चोरी की तरीका, 3 गिरफ्तार
X

गमछा गैंग के तीन सदस्य गिरफ्तार (फोटो- न्यूजट्रैक)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow Crime News: राजधानी लखनऊ के अलग-अलग इलाकों में रेकी करने के बाद बाइक चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले 3 लोग पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। आलमबाग पुलिस (Alambagh Police) ने सरगना समेत 3 लोगों गिरफ्तार करते हुए चोरी की 7 मोटरसाइकिल बरामद की है। इंस्पेक्टर आलमबाग धनंजय सिंह के मुताबिक, चोरी का ये गैंग कंधे पर गमछा डाल कर घूमता था और लोगों की नज़र से बचने के लिए मोटरसाइकिल चोरी करने की वारदात से चंद मिनटों पहले गमछे से अपना चेहरा छिपा लेता था ताकि सीसीटीवी फुटेज (CCTV Footage) या सामने से उसे कोई पहचान न सके।

एडीसीपी सेंट्रल राघवेंद्र मिश्रा (ADCP Central Raghvendra Mishra) बताते हैं कि इन लोगों ने चोरी करने का तरीका सोशल मीडिया साइट फेसबुक (Facebook) पर देखा था और वही से उन्हें चोरी करने का तरीका भी सीखा। एडीसीपी हैं कि गैंग का सरगना सत्यम तिवारी है, जिसने इस आइडिया से सीख लेने के बाद गैंग के अन्य सदस्यों को मोटरसाइकिल चोरी (Motorcycle Theft) करने का तरीका सिखाया और फिर आधा दर्जन से ज़्यादा बाइक चोरी की वारदातों को अंजाम दे डाला।

(फोटो- न्यूजट्रैक)

अलग-अलग इलाकों से चोरी की मोटरसाइकिल बरामद

इंस्पेक्टर आलमबाग धनंजय सिंह मुताबिक, सत्यम तिवारी मूल रुप से अमेठी ज़िले (Amethi) का रहने वाला है लेकिन आस्थाई रूप से अपने पिता-मां समेत पूरे परिवार के साथ चिनहट में रहता है। सत्यम ने अपने सुल्तानपुर निवासी 2 साथी आशीष सिंह व मुकेश लोनिया के साथ मिलकर गौतमपल्ली, विभूतिखंड, महानगर और आलमबाग में मोटरसाइकिल चोरी की वारदात को अंजाम दिया था और वही मोटरसाइकिल इनके पास से बरामद हुई है।

धनंजय सिंह के मुताबिक, सत्यम तिवारी चोरी की वारदात के बाद पहली बार पकड़ा गया है लेकिन इनके दो साथी आशीष सिंह व मुकेश लोनिया के बारे में सुल्तानपुर जनपद (Sultanpur) से जानकारी की जा रही है। सत्यम तिवारी अपने दो साथियों के साथ बीते 4 साल से संपर्क में था ऐसे में क्या ये लोग कई और वारदातों को अंजाम दे चुके थे, इस बात का पता पुलिस टीम लगा रही है।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story