×

Lucknow: गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने को तैयार लखनऊ, दुर्गा पूजा व दशहरा के लिए बना 135 फीट ऊंचा पंडाल

Lucknow Durga Puja and Dussehra: राजधानी के जानकीपुरम इलाके में दुर्गा पूजा और दशहरा उत्सव के लिए शानदार पंडाल बनाया जा रहा है। इस पंडाल की ऊंचाई करीब 135 फीट है।

Shashwat Mishra
Updated on: 2022-09-26T20:43:52+05:30
Lucknow News In Hindi
X

दुर्गा पूजा व दशहरा में बना पंडाल। 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow Durga Puja and Dussehra: राजधानी के जानकीपुरम इलाके (Jankipuram Area) में दुर्गा पूजा (Durga Puja) और दशहरा उत्सव (Dussehra festival) के लिए शानदार पंडाल बनाया जा रहा है। इस पंडाल की ऊंचाई करीब 135 फीट है। इस ऊंचाई का यह दुनिया का पहला ऐसा पंडाल होगा, जिसमें दुर्गा पूजा सम्पन्न होगी।

इसी पंडाल पर गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guinness Book of World Records) की नजरें टिकी हैं। फैसला जो भी हो लेकिन लखनऊ के कद्रदान वाह किये बगैर नहीं रह पाएंगे। जानकीपुरम में दुर्गा पूजा के आयोजक सौरव बंदोपाध्याय ने बताया कि 'इस बार दुर्गा पूजा पंडाल को वृंदावन के चंद्रोदय मंदिर की प्रतिकृति के रूप में बना रहे हैं। इसे बनाने के लिए 52 कारीगर 90 दिनों से लगे हुए हैं।'


पश्चिम बंगाल में बना था 135 फीट ऊंचा पंडाल

बता दें कि इसे बनाने के लिए बांस आसाम से लाये गए हैं। कपड़ा गुजरात से आया है। लाइट महाराष्ट्र से आ रही है। बनाने वाले कारीगर पश्चिम बंगाल के हैं और दुर्गा पूजा से लेकर दशहरे तक पूजा कराने के लिए पुजारी भी बंगाल से ही आएंगे। अब तक बने पंडाल के ढांचे पर 56 लाख रुपये खर्च हो चुके हैं। गौरतलब है कि 135 फीट की ऊंचाई का एक पंडाल साल 2021 में ही पश्चिम बंगाल के लेकटाउन में बनाया गया था। इसकी डिजाइन हूबहू बुर्ज खलीफा जैसी थी, लेकिन एयर ट्रैफिक कंट्रोल से परमीशन न मिलने की वजह से, इसमें लाइटिंग नहीं हो पाई और इसे अगले ही दिन बंद करना पड़ा।


भूकंप रोधी है पंडाल, चंद्रोदय मंदिर जैसा दिख रहा

सौरव बंद्योपाध्याय इस बात को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त हैं कि यह पूजा पंडाल इस बार गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड में अपनी जगह बनाएगा और लखनऊ के लिए गौरव की वजह बनेगा। उन्होंने बताया कि 2019 में उन्होंने सहारा स्टेट में 41 हजार वर्ग फीट का पूजा पंडाल बनवाया था। इस पंडाल में एक साथ डेढ़ लाख लोगों ने पूजा की, तो यह विश्व रिकार्ड बन गया। यह पंडाल 135 फीट ऊंचा है और बाहर से देखने पर यह बिल्कुल चन्द्रोदय मंदिर जैसा नजर आएगा। इस पंडाल को भूकम्प रोधी बनाया गया है। इसे बनाने में लगातार इस बात का ध्यान रखा गया है कि यह पूरी मजबूती के साथ खड़ा रहा।


111 फीट है ऊंचाई

गिनीज बुक में दर्ज सबसे ऊंचा पंडाल 111 फीट का है। इसे कोलकाता में साल 2016 में बनाया गया था। इस पूजा पंडाल को लाल किले का रूप दिया गया था।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story