Top

ये कैसी दिवाली, लंबित बकाए, वेतन और बोनस के लिए घेरे गए मुख्य वित्त एवं लेखाधिकारी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 Nov 2018 1:32 PM GMT

ये कैसी दिवाली, लंबित बकाए, वेतन और बोनस के लिए घेरे गए मुख्य वित्त एवं लेखाधिकारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : लंबित बकाए एवं वेतन, बोनस के भुगतान में हो रही देरी से नाराज नगर निगम कर्मचारी संघ लखनऊ के अध्यक्ष आनंद वर्मा के नेतृत्व में कर्मचारियों ने मुख्य वित्त एवं लेखाधिकारी का घेराव किया। अपर आयुक्त के द्वारा यथाशीघ्र भुगतान के आश्वासन पर घेराव स्थगित किया गया।

नगर निगम कर्मचारी संघ लखनऊ के अध्यक्ष आनंद वर्मा के नेत्रतृव में कर्मचारियों ने मुख्य वित्त एवं लेखाधिकारी का घेराव कर मांग की है, कि उत्तर प्रदेश शासन से प्राप्त लगभग 10 करोड़ की राशी में से कर्मचारियों/ अधिकारियों के लंबित आठ माह की भविष्य निधि, वर्ष 2012 से मंहगाई भत्ते की राशी कर्मचारी के भाविष्य निधि खातों में भेजी जाये तथा उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा घोषित बोनस की राशी का भुगतान दीपावली पर्व से पूर्व किया जाये। अपर नगर आयुक्त द्वारा संघ को आश्वासन दिया गया है कि कर्मचारियों के भविष्य निधि की लंबित राशी एवं बोनस का भुगतान कर्मचारियों को शीघ्र किया जायेगा। अपर नगर आयुक्त के आश्वासन के बाद संघ द्वारा नगर निगम प्रशासन को दीपावली की बधाई देते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया गया।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story