×

KGMU में शुरू होगा नर्सिंग का स्पेशियलिटी कोर्स: 20 अगस्त तक कर सकेंगे आवेदन, 30 सीटों पर लिया जाएगा एडमिशन

KGMU: किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्विद्यालय ने नर्सिंग में बैचलर कर चुके छात्रों के लिए नया कोर्स शुरू किया है। इस कोर्स में क्रिटिकल केयर नर्सिंग का 3 महीने का प्रमाण पत्र मिलेगा।

Shashwat Mishra
Updated on: 5 Aug 2022 2:12 PM GMT
Nursing specialty course will start in KGMU till August 20, admission will be taken on 30 seats
X

KGMU में शुरू होगा नर्सिंग का स्पेशियलिटी कोर्स: Photo- Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow: राजधानी के किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्विद्यालय (KGMU) ने नर्सिंग में बैचलर कर चुके छात्रों के लिये एक नया कोर्स शुरू किया है। जिसके जरिये वो अपने कार्यक्षेत्र में निपुण हो सकते हैं। साथ ही, उन्हें इसके लिए प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा। केजीएमयू (KGMU) ने इस साल से नर्सिंग के क्षेत्र में स्पेशिएलिटी का एक अलग कोर्स शुरू किया है। इस कोर्स में क्रिटिकल केयर नर्सिंग का प्रमाण-पत्र कोर्स 3 महीने का होगा और इसे एनेस्थीसिया एवं क्रिटिकल केयर विभाग चलाएगा।

30 सीटों पर मिलेगा प्रवेश

प्रबंधन ने बताया कि इस कोर्स के लिए विभाग में मात्र 30 सीटें ही आवंटित की गई है। कोर्स में बीएससी नर्सिंग या जीएनएम (GNM) पास अभ्यर्थी ही प्रवेश ले सकेंगे। उन्होंने यह भी बताया इसके लिए 1 अगस्त 2022 से आवेदन शुरू किए गए हैं। जो भी अभ्यर्थी इच्छुक हों वह 20 अगस्त तक केजीएमयू की वेबसाइट www.kgmu.org पर आवेदन कर सकते हैं।

प्रत्येक प्रवेश परीक्षा की तरह इसमें भी प्रवेश परीक्षा होगी व 1 सितंबर 2022 से कोर्स की कक्षाएं शुरू की जायेंगी। प्रबंधन ने यह भी बताया कि कोर्स की फीस ₹15000 निर्धारित की गई है। कोर्स का संचालन प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष डॉ जी.पी. सिंह के नेतृत्व में कोर्स के डायरेक्टर डॉ ज़िया अरशद द्वारा किया जाएगा।

लोहिया संस्थान में शुरू हुए हैं PDCC व PDF कोर्स

गौरतलब है कि, संस्थान ने इस साल से दो कोर्स शैक्षणिक पाठ्यक्रम में शुरू करके, अगले स्तर के सुपर स्पेशलिटी (Super Specialty) युग में प्रवेश किया है। इन कोर्सों के नाम पोस्ट डॉक्टरल सर्टिफिकेट कोर्स (PDCC) और पोस्ट डॉक्टरल फेलोशिप (PDF) है।

पोस्ट डॉक्टरल सर्टिफिकेट कोर्स यानी पीडीसीसी को एमडी/एमएस के बाद किया जा सकता है। इसमें पैथोलॉजी, एनएसथीसियोलॉजी, इमरजेंसी मेडिसिन, जनरल मेडिसिन, रेडियोडायग्नोसिस और ऑर्थोपेडिक (Orthopedic) जैसे पाठ्यक्रमों की बारीकियों को बताया जाएगा।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story