×

Lucknow Roads: लखनऊ में वाहन चालक सावधान, इन 7 सड़कों पर स्पीड हुई तेज तो तुंरत कटेगा चालान

Lucknow News: राजधानी लखनऊ के पुलिस कमिश्नरेट ने ओवर स्पीडिंग से होने वाली दुर्घटनाएं सबसे ज्यादा जिन सड़कों पर होतीं है, उन सड़कों का ब्यौरा निकाला है।

Vidushi Mishra
Updated on: 6 July 2022 4:36 AM GMT
Challan immediately over speed on road
X

सड़क पर ओवर स्पीड होने पर तुरंत कटेगा चालान (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
Click the Play button to listen to article

Lucknow Roads: सड़कों पर गाड़ी चलाते समय जैसे ही खाली सड़क दिखाई देती है, तुरंत ही वाहन चालकों की स्पीड तेजी से बढ़ जाती है। कभी-कभी तो स्पीड 100 के पार भी निकल जाती है।अक्सर हादसे उसी एकदम से बढ़ी स्पीड की वजह से होते हैं। लेकिन अब इन पर अंकुश लगाने के लिए कड़ा प्रबंध किया गया है। जिसके चलते राजधानी लखनऊ के पुलिस कमिश्नरेट ने ओवर स्पीडिंग से होने वाली दुर्घटनाएं सबसे ज्यादा जिन सड़कों पर होतीं है, उन सड़कों का ब्यौरा निकाला है।

राजधानी लखनऊ की सात ऐसी सड़कें हैं जहां पर ओवर स्पीड की वजह से सबसे ज्यादा हादसे होते हैं। ऐसे में अब नए बदलाव के तहत, इन सड़कों पर लगे स्पीडोमीटर की नजर हर समय वाहनों पर रहती है तो अगर कोई भी चालक अपने वाहन की स्पीड को 60 किमी से ऊपर करता है, बस वैसे ही तुरंत उसका चालान कट जाता है। ये सिलसिला बीते डेढ़ महीने से जारी है। जिसमें इन सात सड़कों पर 17 हजार के लगभग चालान काटे जा चुके हैं।

इस बारे में एडीसीपी ट्रैफिक अजय कुमार के अनुसार, इस व्यवस्था का एक मात्र उद्देश्य दुर्घटना होने से रोकना है। सड़कों पर चलने के दौरान जब चालान कटता है तो लोग अपने वाहन की गति को लेकर बेहद सतर्क रहते हैं।

लखनऊ की इन 7 सड़कों पर हो जाएगा चालान

1- खुर्रमनगर से समता मूलक चौराहा

2- 1090 चौराहे से कालीदास मार्ग

3- अवध से दुबग्गा

4- बंग्लाबाजार से कैंट

5- तेलीबाग से बंग्लाबाजार

6- दयाल पैराडाइज से गोमतीनगर विस्तार

7- सेक्टर 25 से मुंशीपुलिया

आगे एडीसीपी ट्रैफिक ने जानकारी देते हुए बताया कि आईटीएमस की तरफ से चालान शुरू हो गया है। एक महीने में हेल्मेट न पहनने के 6 हजार से ज्यादा, रेड लाइट जंप करने के 1400 से ज्यादा चालान हो गए हैं। जिनमें से ओवर स्पीडिंग के चालान अभी चिह्नित सात सड़कों पर ही हो रहे हैं। वहीं इनकी संख्या हर रोज करीब 397 है।

चालान के बारे में ट्रैफिक पुलिस के अनुसार, इन सात सड़कों पर 60 से ज्यादा की स्पीड में गुजरने वाले छोटे वाहनों (बाइक व कार) का 2000 रुपये और बड़े वाहनों (ट्रक, बस व अन्य) का 4000 रुपये का चालान होता है।

गुप-चुप कट जाता है चालान

राजधानी की इन 7 सड़कों पर आईटीएमस के माध्यम से चार-चार कैमरे लगाए गए हैं, जिनमें स्पीडोमीटर सॉफ्टेवेयर भी फीड है। इन कैमरों में 60 की स्पीड तय कर दी गई है। अब जैसे ही कैमरे में फीड हुए वाहन की स्पीड 60 से ज्यादा होती है, वैसे ही कैमरा बीप करने लगता है और विभाग के कर्मचारी द्वारा तुरंत ही वाहन का चालान काट दिया जाता है।


Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story