×

लखनऊ मेट्रो; एमडी ने उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर के बैलेंस सेक्शन के मेट्रो स्टेशनों का लिया जायज़ा

राम केवी

राम केवीBy राम केवी

Published on 31 Jan 2019 1:04 PM GMT

लखनऊ मेट्रो; एमडी ने उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर के बैलेंस सेक्शन के मेट्रो स्टेशनों का लिया जायज़ा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊः कमिशनर ऑफ़ मेट्रो रेल सेफ़्टी (सीएमआरएस) के निरीक्षण को ध्यान में रखते हुए लखनऊ मेट्रो के उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर (फ़ेज़ 1-ए) के बैलेंस सेक्शन के अंतर्गत आने वाले मेट्रो स्टेशनों की अंतिम चरण की तैयारियां ज़ोरों पर हैं।

खुशखबरी: लखनऊ मेट्रो के गो स्मार्ट कार्ड से भरिए हाउस और वॉटर टैक्स, मिलेंगी कई सुविधाएं

इस संदर्भ में ही लखनऊ मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (एलएमआरसी) के प्रबंध निदेशक, श्री कुमार केशव ने आज मुंशीपुलिया, लेखराज मार्केट और बादशाह नगर मेट्रो स्टेशनों का दौरा किया और सभी तैयारियों का ब्यौरा लिया। श्री केशव ने मेट्रो इंजीनियरों और कॉन्ट्रैक्टरों को आगामी निरीक्षण हेतु पूरी तरह से कमर कसने के निर्देश दिए।

मेट्रो स्टेशनों पर लिफ़्ट्स और एस्कलेटर्स (स्वचालित सीढ़ियां) पहले ही लगाई जा चुकी हैं और फ़िलहाल, लगातार इनका परीक्षण किया जा रहा है। साथ ही, सभी इलेक्ट्रॉनिक और लाइटिंग उपकरणों को भी निर्धारित जगहों पर लगाया जा चुका है और इन्हें भी लगातार टेस्ट किया जा रहा है। इनके अतिरिक्त, मेट्रो स्टेशनों पर पब्लिक अनाउंसमेन्ट सिस्टम और साइनेज (यात्रियों हेतु ज़रूरी दिशा-निर्देश) भी स्थापित किए जा चुके हैं।

अपने निरीक्षण के दौरान श्री केशव ने मेट्रो इंजीनियरों और कॉन्ट्रैक्टरों को विशेष रूप से निर्देश देते हुए, केडी सिंह और मुंशीपुलिया मेट्रो स्टेशनों के बीच यातायात हेतु सड़क मार्ग को जल्द से जल्द पूरी तरह से सुगम बनाने के लिए कहा ताकि शहरवासियों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े। इसके अलावा, मेट्रो स्टेशनों पर ऑटोमैटिक प्रवेश/निकास द्वार, हवा और रौशनी की उत्तम व्यवस्था हेतु लगाए जाने वाले रौशनदान और जनसुविधा से जुड़ी सभी व्यवस्थाओं का इंतज़ाम पूरा हो चुका है।

मेट्रो यात्रियों की सुरक्षा और सहूलियत को ध्यान में रखते हुए, स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने का काम भी शुरू किया जा चुका है। ये सभी कैमरे सीधे ट्रांसपोर्ट नगर मेट्रो डिपो स्थित ऑपरेशन्स कंट्रोल सेन्टर (ओसीसी) से जुड़े होंगे और वहीं से इनकी सीधी निगरानी होगी। यात्रियों की सुरक्षा हेतु ये सभी ख़ास इंतज़ाम, लखनऊ मेट्रो को अर्बन मास रैपिड ट्रांज़िट सिस्टम (एमआरटीएस) के सबसे उम्दा साधनों में से एक बनाता है, जो यात्रियों/उपभोक्ताओं को अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ-साथ ‘स्मार्ट ट्रैवल’ का अनुभव भी प्रदान करता है।

लखनऊ मेट्रो को इस बार सुगम और मजबूत यातायात सिस्टम देने के लिए अवार्ड

जल्द ही, चैधरी चरण सिंह एयरपोर्ट से मुंशीपुलिया तक संपूर्ण उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर को यात्री सुविधा हेतु पूर्णरूप से शुरू कर दिया जाएगा।

राम केवी

राम केवी

Next Story